मुस्तफा नामक विचाराधीन कैदी की मैसूर जेल में हत्या, बजरंग दल के कार्यकर्ता की हत्या का था आरोप

0

कर्नाटक की मैसूर जेल में मुस्तफा कंवूर नामक विचाराधीन कैदी की हत्या कर दी गई है। हत्या करने वाला करण शेट्टी नामक व्यक्ति है, जिस पर हत्या की कोशिश, उत्पीड़न के कई मामले दर्ज हैं। इस मामले में मैसूर सिटी के पुलिस कमिशनर ए. सुब्रमण्येश्वरा राव का कहना है कि आरोपी करण का कहना है कि उसने मुस्तफा को अपनी किसी निजी दुश्मनी की वजह से मारा।

कर्नाटक की मैसूर जेल में बंद 28 वर्षीय कैदी मुस्तफा कंवूर को अंडरट्रायल रखा गया था। उस पर 2015 में बजंरग दल के कार्यकर्ता पार्शनाथ पुजारी की हत्या का आरोप था।

murder

करण शेट्टी नामक जिस व्यक्ति ने मुस्तफा कंवूर की हत्या की है, वह भी उसी जेल में अंडरट्रायल कैदी था। करण शेट्टी पर हत्या की कोशिश, उत्पीड़न के कई मामले दर्ज हैं।

बताया गया कि करण का रिकॉर्ड पहले से ही खराब है। वह पहले मैंललूरू की जेल में था। वहां पर भी वह कैदियों से झगड़ा करता था इसलिए दो साल पहले उसे मैसूर जेल लाया गया था। जबकि मुस्तफा कंवूर को कुछ महीने पहले ही मैसूर जेल लाया गया था।

जनसत्ता की खबर के अनुसार, मुस्तफा कंवूर पर जिस बजरंग दल के सदस्य पार्शनाथ पुजारी की हत्या के आरोप था, वह और करण शेट्टी आपस में अच्छे दोस्त थे। मुस्तफा कंवूर की हत्या की बाबत थाने में केस रजिस्टर हो गया है। शिकायत में कहा गया है कि दोनों के बीच पुजारी के मर्डर को लेकर बहस हुई थी जिसके बाद करण ने हमला बोलकर मुस्तफा की जान ले ली। मुस्तफा को पास के हॉस्पिटल भी ले जाया गया था। लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here