बुलंदशहर हिंसा: राहुल गांधी का पीएम पर निशाना, कहा- ‘मोदी और योगी राज में जनता में दहशत’

0

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर जिले के स्याना में भीड़ की हिंसा में मारे गए शहीद इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह को लेकर कांग्रेस ने मंगलवार (4 दिसंबर) को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री पर निशाना साधते हुए कहा कि मोदी-योगी राज में पुलिस का यह हाल है तो फिर जनता कितनी दहशत में होगी।

राहुल गांधी
फाइल फोटो- @INCIndia

राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, ‘‘बुलन्दशहर में पुलिस अधिकारी सुबोध सिंह की अराजक भीड़ द्वारा हत्या दर्दनाक और शर्मनाक है। मोदी-योगी राज में पुलिस का जब यह हाल है तो आम जनता कितनी दहशत में होगी।’’ इससे पहले, कांग्रेस ने कहा कि इस मामले की हाई कोर्ट के किसी मौजूदा न्यायाधीश की निगरानी में जांच होनी चाहिए। पार्टी ने सवाल किया कि क्या यही बदलाव है जिसका वादा प्रधानमंत्री मोदी ने 2014 में किया था?

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘ मोदी जी कहते थे कि बदलाव होगा। लेकिन 2014 से आज तक बदलाव नहीं बदला दिख रहा है। भय, भ्रष्टाचार, राम और हनुमान के नाम पर राजनीति दिख रही है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘बुलंदशहर में कैसा बदलाव आया है? उत्तर प्रदेश सरकार के मंत्री ओमप्रकाश राजभर खुद आरोप लगा रहे हैं कि बजरंग दल और विहिप के लोगों ने साजिश के तहत हिंसा की है। 400 लोगों का इकट्ठा होना, थाने पर हमला करना, पुलिस पर हमला किया जाना, क्या दिखाता है? क्या मोदी जी इसी बदलाव की बात कर रहे थे?’’

सिब्बल ने दावा किया, ‘‘घटना वाले दिन योगी जी रमन सिंह के साथ बैठकर ‘लाइट एंड साउंड शो’ देख रहे थे। उस पुलिस अधिकारी के परिवार की दर्द भरी चीखें नहीं सुनना चाह रहे थे। वह मुठभेड़ पर तुरंत रिपोर्ट मंगवाते हैं, लेकिन इस पर खामोश हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘पुलिस की जांच पर तो भरोसा नहीं है। सीबीआई की क्या हालत है, सबको पता है। अगर उच्च न्यायालय के किसी मौजूदा न्यायाधीश की देखरेख में जांच हो तो कुछ निकल सकता है।’’

गौरतलब है कि सोमवार को बुलंदशहर के स्याना में गोकशी की अफवाह के बाद फैली हिंसा में सुबोध सिंह नामक एक पुलिस अधिकारी की मौत हो गई थी। फायरिंग में एक और युवक की भी मौत हो गई। उपद्रवी भीड़ ने पुलिस चौकी समेत कई वाहनों को फूंक डाला। इस घटना को शहीद इंस्पेक्टर की पत्नी ने एक सोची-समझी साजिश करार दिया है और कहा कि उनके पति को जान से मारने की धमकियां मिलती थीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here