UGC का फरमान- 11 सितंबर को सभी विश्वविद्यालयों और शिक्षा संस्थानों में LIVE हो PM मोदी का भाषण

0

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने एक ऐसा फरमान जारी किया है, जिसे लेकर एक नया विवाद शुरू हो गया है। दरअसल, स्वामी विवेकानंद के शिकागो(अमेरिका) में दिए चर्चित भाषण के 125वें वर्ष पूरे होने के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 11 सितंबर को नई दिल्ली में होने वाले छात्र नेता सम्मेलन को संबोधित करेंगे। यूजीसी ने निर्देश जारी करते हुए कहा कि सभी सरकारी शिक्षा संस्थानों में पीएम के भाषण का लाइव भाषण हो।

File Photo: PTI

यूजीसी के कार्यकारी अध्यक्ष प्रो. वीरेंद्र सिंह चौहान ने फरमान जारी करते हुए कहा कि पीएम मोदी के इस संबोधन का सभी केंद्रीय विश्वविद्यालयों और सरकारी शिक्षा संस्थानों में लाइव प्रसारण किया जाए। यूजीस ने सभी विश्वविद्यालयों और उच्च शिक्षा संस्थानों के कुलपतियों को निर्देश जारी कर प्रधानमंत्री के इस भाषण के सीधे प्रसारण के लिए व्यवस्था करने को कहा है।दरअसल, यह कार्यक्रम मी विवेकानंद के शिकागो उद्बोधन के 125 वें वर्ष पूरे होने और पंडित दीनदयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी वर्ष के अवसर पर आयोजित किया जा रहा है। यह कार्यक्रम दिल्ली के विज्ञान भवन में 11 सितंबर को सुबह साढ़े 10 बजे से शुरू होगा। पीएम मोदी के इस संबोधन के सीधा प्रसारण की सुविधा मानव संसाधन विकास मंत्रालय के पोर्टल पर भी रहेगी।

साथ ही इस कार्यक्रम में पीएम मोदी के भाषण को छात्रों को सुनने के लिए केंद्रीय विश्वविद्यालय, आईआईटी और आईआईएम जैसे संस्थानों में विशेष व्यवस्था की गई है। इस कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए तीन मंत्रालय कमर कस चुके हैं। खेल, संस्कृति और शिक्षा मंत्रालय इस इंतजाम में जुटे हुए हैं।

बता दें कि स्वामी विवेकानंद ने अमेरिका स्थित शिकागो में वर्ष 1893 में आयोजित विश्व धर्म महासभा में भारत की ओर से सनातन धर्म का प्रतिनिधित्व किया था। इस सम्मेलन में विवेकानंद ने 11 सितंबर 1893 को एक बेहद चर्चित भाषण दिया था। विवेकानंद का जब भी जि़क्र आता है, उनके इस भाषण की चर्चा जरूर होती है। स्वामी विवेकानंद एक विख्यात और प्रभावशाली आध्यात्मिक गुरु थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here