महाराष्ट्र के 19वें मुख्यमंत्री बने उद्धव ठाकरे, छह नेताओं ने ली मंत्री पद की शपथ

0

महाराष्ट्र में करीब एक माह तक चला राजनीतिक ड्रामा शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के गुरुवार को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के साथ ही समाप्त हो गया। शिवसेना प्रमुख ठाकरे परिवार के पहले और राज्य के 19वें मुख्यमंत्री बन गए हैं। राज्य में शिवसेना, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी और कांग्रेस गठबंधन की सरकार बनी है जिसे ‘महा विकास अघाड़ी’ नाम दिया गया।

उद्धव ठाकरे

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने गुरुवार को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। उनके साथ शिवसेना, कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के दो-दो नेताओं ने मंत्री पद की शपथ ली। मुंबई के शिवाजी पार्क में राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। इस मौके पर तीनों दलों के वरिष्ठ नेता और हजारों कार्यकर्ता मौजूद थे।

इस मौके पर उद्धव ठाकरे के भाई और महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के प्रमुख राज ठाकरे भी मौजूद रहे। राज ठाकरे की मौजूदगी से चर्चाओं का बाजार गरम रहा। वहीं रिलायंस इंडस्ट्री के प्रमुख मुकेश अंबानी भी सपरिवार इस समारोह में नजर आए। मुकेश के अलावा समारोह में उनकी पत्नी नीता अंबानी अपने पुत्र अनंत अंबानी के साथ नजर आईं। इसके अलावा समारोह में कमलनाथ, एम के स्टालिन समेत कई बड़े नेता भी मौजूद रहे।

उद्धव ठाकरे के साथ छह नेताओं ने ली मंत्री पद की शपथ

शिवसेना से एकनाथ शिंदे और सुभाष देसाई ने भी शपथ ली। शिंदे और देसाई दोनों शिवसेना के वरिष्ठ नेता हैं। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के कोटे से पार्टी के दो वरिष्ठ नेताओं जयंत पाटिल और छगन भुजबल ने भी शपथ ग्रहण किया। पाटिल मराठा समुदाय तो भुजबल ओबीसी वर्ग से आते हैं। कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष बालासाहेब थोराट और कार्यकारी अध्यक्ष नितिन राउत को मंत्री पद की शपथ दिलाई गई है। महाराष्ट्र कांग्रेस कोटे से शपथ लेने वाले थोराट मराठा समुदाय और तो राउत दलित समुदाय के चेहरा हैं।

जानिए, उद्धव ठाकरे के बारे में

शिवसेना के संस्थापक एवं अपने पिता बाला साहेब ठाकरे से राजनीति का ककहरा सीखने वाले श्री उद्धव ठाकरे के राजनीति में आने से पूर्व शिवसेना के उत्तराधिकारी के रूप में उन्हें शायद ही कोई जानता था। यह एक महत्वपूर्ण तथ्य है कि श्री ठाकरे ने कभी भी सक्रिय राजनीति में अपना ध्यान नहीं लगाया। वह स्वयं को वन्यजीव फोटोग्राफी में ही व्यस्त रखते थे। वह एक प्रसिद्ध फोटोग्राफर हैं और वाषिर्क प्रदर्शनियों में उनकी तस्वीरों को काफी महत्व दिया जाता रहा है। वन्य जीवों के बेहतरीन चित्रो को देखकर उनकी प्रतिभा का अंदाजा लगाया जा सकता है।

श्री ठाकरे ने उस समय अप्रत्याशित रूप से सुर्खियां प्राप्त की जब उन्हें शिवसेना का अगला प्रमुख बनाए जाने की घोषणा की गई थी। उन्होंने 2002 के बीएमसी चुनाव में पार्टी की जीत के साथ शिवसेना को एक प्रमुख स्थान दिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की जिसके बाद उनके पिता ने उन पर पार्टी में एक जिम्मेदार भूमिका निभाने के लिए जोर डाला। उद्धव ठाकरे का जन्म 27 जुलाई 1960 को मुंबई में हुआ था। उनके परिवार में पत्नी रश्मि ठाकरे और दो बेटे हैं। उनके बड़े बेटे का नाम आदित्य ठाकरे है और वह युवा सेना के अध्यक्ष हैं जबकि दूसरे बेटे तेजस अमेरिका के कॉलेज में पढ़ रहे हैं।

वर्ष 2003 में उद्धव ठाकरे को पार्टी का कार्यकारी अध्यक्ष घोषित किया गया। शिवसेना के मुखपा मराठी अखबार सामना का प्रबंधन श्री उद्धव ठाकरे ही कर रहे हैं। इस की स्थापना श्री बाला साहेब ठाकरे ने की थी। जून 2006 के बाद से श्री उद्धव ठाकरे इस समाचार पत्र के मुख्य संपादक हैं। (इंपुट: एजेंसी के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here