उत्तर प्रदेश: औरैया में दो साधुओं की पीट-पीट कर हत्या, इलाके में तनाव

0

पिछले कुछ दिनों से देश में लगातार बढ़ रहीं मॉब लिंचिंग (भीड़ द्वारा पीट पीटकर की जाने वाली हत्या) की घटनाओं को लेकर केंद्र सरकार विपक्षी पार्टियों के निशाने पर है। इसी बीच, अब ख़बर है कि यूपी के औरैया जिले के बिधुना में दो साधुओं की कथित तौर पर हत्या कर दी गयी, जबकि एक अन्य साधू गंभीर रूप से घायल हो गया।

इस घटना के बाद इलाके में तनाव फैल गया है। वरिष्ठ पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी घटना स्थल पर पहुंचे और मामले को नियंत्रित किया। पुलिस ने कहा है कि दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

उत्तर प्रदेश
representational image

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, अपर पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार सक्सेना ने बताया कि बिधूना पुलिस स्टेशन के कुदरकोट इलाके के भयानक नाथ मंदिर में बुधवार तड़के करीब तीन बजे मंदिर के तीन साधुओं पर अज्ञात लोगों ने हमला कर दिया। पुलिस ने स्थानीय लोगों के हवाले से बताया कि ऐसा संदेह है कि इन साधुओं पर हमला इसलिये हुआ क्योंकि यह कथित गौकशी का विरोध करते थे।

बिधुना के पुलिस क्षेत्राधिकारी भास्कर वर्मा ने बताया कि साधुओं को पहले चारपाई पर बांधा गया, फिर उनकी हत्या कर दी गयी। उन्होंने बताया कि मारे गये साधुओं के नाम लज्जाराम और हल्केराम हैं। रामशरण नामक साधू बुरी तरह से घायल है जिसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

इन तीनों साधुओं की उम्र 50 से 60 साल के बीच है। घटना के बाद इलाके में तनाव है जिसे देखते हुये भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है। वरिष्ठ पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी मौके पर नजर रखे हुये हैं।

गौरतलब है कि अलग-अलग वजहों से हुई मॉब लिंचिंग के चलते कई लोग अपनी जान गंवा चुके हैं, जिसके चलते विपक्ष सरकार पर इस मुद्दे को लेकर कई बार हमला बोल चुका है। अभी हाल ही में राजस्थान के अलवर जिले में एक मुस्लिम युवक को कथित गो-तस्करी के आरोप में पीट-पीटकर भीड़ ने मौत के घाट उतार दिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here