बिहार: केंद्रीय मंत्री अश्विनी कुमार चौबे के बेटे की कार के दस्तावेज नहीं चेक करने पर दो पुलिस अधिकारी निलंबित

0

बिहार के बक्सर लोकसभा क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद और केंद्रीय मंत्री अश्विनी कुमार चौबे के बेटे के वाहन के दस्तावेजों की जांच न करने को लेकर रविवार को बिहार पुलिस के दो अधिकारियों को निलंबित कर दिया गया।

अश्विनी कुमार चौबे
फाइल फोटो

समाचार एजेंसी आईएएनएस की रिपोर्ट के मुताबिक, पटना के पुलिस आयुक्त आनंद किशोर ने दोनों पुलिसकर्मियों को अश्विनी चौबे के बेटे अरिजीत के वाहन के दस्तावेजों की जांच न करने पर सहायक उपनिरीक्षक (एएसआई) व कांस्टेबल को ड्यूटी से सस्पेंड कर दिया।

जिले के एक अधिकारी के अनुसार, किशोर ने दोनों पुलिसकर्मियों से उस वाहन की जांच करने को कहा था, जिसमें अरिजीत चौबे, उनकी पत्नी व मां यात्रा कर रही थीं। पुलिस ने वाहन को रोका, लेकिन दस्तावेज की जांच नहीं किया। किशोर ने एएसआई देवपाल पासवान व कांस्टेबल दिलीप चंद्र के निलंबन का आदेश दिया। किशोर खुद वाहन जांच मुहिम की निगरानी कर रहे हैं।

इससे पहले केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने शनिवार को कहा था कि आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (जेएवाई) में कैंसर इलाज को शामिल करने के एक प्रस्ताव पर स्वास्थ्य मंत्रालय अध्ययन कर रहा है। इस कार्यक्रम में मंत्री ने कहा कि गोमूत्र का इस्तेमाल आज कई दवाइयां तैयार करने में किया जाता है। गोमूत्र से कैंसर की दवा भी बनाई जा रही है। उन्होंने का कहना है कि हमारा आयुष्मान मंत्रालय भी इस पर काम कर रहा है।

इस योजना में कैंसर को शामिल क्यों नहीं किये जाने के एक सवाल के जवाब में चौबे ने यहां पत्रकारों से कहा कि केंद्र एक अलग योजना के तहत वर्तमान में तीन प्रकार के कैंसर का उपचार प्रदान कर रहा है, और अब जेएवाई के तहत इस घातक बीमारी को शामिल करने के प्रस्ताव पर अध्ययन किया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here