उत्तर प्रदेश: बाइक के कागजात नहीं रहने पर दो पुलिसकर्मियों ने मासूम के सामने युवक को सड़क पर गिराकर लात-घूसों से बुरी तरह पीटा, हुए सस्पेंड

0

हमेशा सुर्खियों में रहने वाली यूपी पुलिस का शर्मनाक चेहरा एक बार फिर से सामने आया है। उत्तर प्रदेश के सिद्धार्थनगर जिले का एक वीडियो सोशल साइट्स पर तेजी से वायरल हो रहा है, वीडियो में दो पुलिसकर्मी एक मासूम बच्चे के सामने एक युवक को सड़क पर गिराकर बेरहमी से पीटते हुए दिखाई दे रहें है। वीडियो वायरल होने और लोगों की आलोचनाओं के बाद दोनों पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है।

उत्तर प्रदेश

बताया जा रहा है कि पीड़ित शख्स और पुलिसकर्मियों के बीच कथित तौर पर ट्रैफिक नियमों के उल्लंघन को लेकर बहस हुई थी। वीडियो में दिख रहा है कि जिस समय पुलिसकर्मी युवक को पटक-पटक कर मार रहे थे उस समय उसके साथ एक छोटा बच्चा भी था जो मारे घबराहट के इधर-उधर भाग रहा था। पुलिसकर्मियों ने बुरी तरह लात-घूंसे ही नहीं बरसाए, दरोगा उसके ऊपर चढ़कर बैठ भी गए। लेकिन, इस दौरान आसपास लगे मजमे में से कोई भी बीच-बचाव की हिम्मत नहीं जुटा पा रहा था। इस पूरी घटना का वीडियो किसी राहगीर ने बना लिया, जो अब सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद दोनों पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की गई। दोनों को  निलंबित करते हुए लाइन हाजिर कर दिया गया है। जिन दो पुलिसकर्मियों को निलंबित किया गया है उनके नाम इंस्पेक्टर वीरेंद्र मिश्रा और हेड कांस्टेबल महेंद्र प्रसाद है।

सिद्धार्थनगर पुलिस ने ट्वीट कर लिखा, “उक्त प्रकरण में SI श्री वीरेन्द्र मिश्र प्रभारी चौकी सकारपार व HCP महेन्द्र प्रसाद द्वारा अभद्र व्यवहार किये जाने पर SP SDR द्वारा जांचोपरांत SI वीरेन्द्र मिश्र प्रभारी चौकी सकारपार व HCP महेन्द्र प्रसाद को तत्कालिक प्रभाव से निलम्बित कर लाईन हाजिर कर दिया गया है।”

यह वीडियो सामने आने के बाद लोगों ने दोनों पुलिसकर्मियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की मांग की। लोगों के कहा कि, इन दोनों को तुरंत गिरफ्तार किया जाना चाहिए।

हिन्दुस्तान.कॉम की रिपोर्ट के मुताबिक, मंगलवार अपराह्न खेसरहा थाना क्षेत्र के कुड़जा गांव निवासी युवक रिंकू पांडेय पुत्र योगेंद्र पांडेय सकारपार अपने आठ वर्षीय भतीजे को बाइक से बिठाकर दवा कराने आया था। लौटते समय उसकी बाइक रोक कर सकारपार चौकी प्रभारी वीरेंद्र मिश्र व हेड कांस्टेबल महेंद्र प्रसाद ने कागज मांगा तो उसने कहा कि वह पास के गांव में रहता है, लाकर दिखा देगा। इतना सुनते ही चौकी प्रभारी व हेडकांस्टेबल ने आपा खो दिया और रिंकू को सड़क पर पटक-पटक कर मारने लगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here