कोरोना वायरस: सिंगापुर के PM ने एक महीने के लॉकडाउन के ऐलान से पहले 4 दिन का दिया समय, यूजर्स के निशाने पर आए प्रधानमंत्री मोदी

1

चीन के वुहान शहर से दुनियाभर में फैला घातक कोरोना वायरस पूरे देश में तबाही मचा रहा है। खतरनाक कोरोना वायरस सिंगापुर में पांव पसारता जा रहा है। इस बीच, सिंगापुर में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए वहां की सरकार ने एक महीने का लॉकडाउन की घोषणा की है, जिसकी शुरुआत सात अप्रैल से होगी। बता दें कि, सिंगापुर में संक्रमित लोगों की संख्या 1,000 के पार पहुंच गई है, जिसमें कई भारतीय भी शामिल है।

सिंगापुर

शुक्रवार को राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ली सियन लूंग ने कहा कि देश में कोरोनो वायरस महामारी से लड़ने के लिए एक निर्णायक निर्णय लेने का समय आ गया है। अपने संबोधन में उन्होंने 1 महीने के बंद की घोषणा की है, जोकि अगले मंगलवार (7 अप्रैल) से शुरू होने वाला है। पीएम की ओर से कहा गया है कि आवश्यक सेवाओं और प्रमुख आर्थिक क्षेत्रों को छोड़कर अधिकांश कार्यस्थलों को बंद कर दिया जाएगा।

उनकी इस घोषणा के बाद भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गए। क्योंकि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जब इसी तरह की 21 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा की थी तो उन्होंने भारतीयों को केवल चार घंटे का ही नोटिस दिया था।

एक यूजर ने लिखा, “सिंगापुर भी लॉकडाउन करने जा रहा है लेकिन 3 दिन का समय देकर और पूरी तैयारी के साथ। यह सच है कि इस #CoronavirusPandemic से निपटने में #Lockdown21 जरूरी है बाकी चीजों के साथ; बस प्लान के साथ और समय देकर होना चाहिए था। साथ ही स्वास्थ सुविधाओ की बढ़ोत्तरी भी।”

एक अन्य यूजर ने लिखा, “मोदी जी थाली बजाने और दीया जलाने के लिए तो 2 दिनों का समय देते है ताकि तैयारी रहे, पर जिस लॉकडॉउन के लिए लोगो को समय चाहिए तैयारियों के लिए उसे सिर्फ चार घंटे में लागू कर देते है। सिंगापुर ने जनता के हितों को ध्यान में रखकर 4 दिन का समय दिया है लॉक डॉउन करने से पहले, कुछ सीखिए।”

एक अन्य यूजर ने लिखा, “सिंगापुर में सरकार द्वारा लाकडाउन से 4 दिन पूर्व जनता को सूचना देते हुए, और हमारे देश भारत में लाकडाउन मे घर जाने की अफरातफरी ने कितनो की जान ले ली।” बता दें कि, इसी तरह तमाम यूजर्स अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे है।

देखें कुछ ऐसे ही ट्वीट

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here