नलिया गैंगरेप मामले में भाजपा नेताओं के नाम आने पर सोशल मीडिया में आक्रोश, यूजर्स बोले- ‘BJP से बेटी बचाओं’

0

नई दिल्ली। गुजरात में कच्छ स्थित नालिया शहर में एक शादीशुदा महिला के साथ कथित तौर पर हुए गैंगरेप के मामले की जांच कर रहे विशेष जांच दल (एसआईटी) ने इस अपराध में शामिल पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किए गए इन आरोपियों में 4 बीजेपी के नेता भी शामिल हैं।

हालांकि, गुजरात भाजपा ने पहले ही पार्टी के इन चारों सदस्यों (शांतिलाल सोलंकी, गोविंद परूमलानी, अजीत रामवानी और वसंत भानुशाली) को पार्टी से निलंबित कर चुकी है। लेकिन इसके बावजूद ये मामला तुल पकड़ता जा रहा है। इस मुद्दे को आधार बनाकर सोशल मीडिया पर यूजर्स बीजेपी पर जमकर निशाना साध रहे हैं। शनिवार रात को ट्विटर पर #BJPSeBetiBachao (बीजेपी से बेटी बचाओं) टॉप पर ट्रेंड कर रहा था।

महिला के साथ गैंगरेप की पहली वारदात साल 2015 में हुई थी। पीड़िता ने आरोप लगाया है कि वह बीजेपी नेता शांतिलाल की गैस एजेंसी पर काम करती थी। इस दौरान जब दिवाली पर उसने शांतिलाल से एडवांस सैलरी की मांग की तो उसने पीड़िता को घर आकर पैसे लेने की बात कही।

पीड़िता के घर पहुंचने के बाद आरोपियों ने उसे कोल्ड ड्रिंक में नशीला पदार्थ मिलाकर पिला दिया और फिर उसके साथ गैंगरेप किया। पीड़िता का आरोप है कि उन लोगों ने उसका अश्लील वीडियो भी बनाया। महिला के मुताबिक, उस वीडियो को वायरल करने की धमकी देकर आरोपी पिछले डेढ़ साल से पीड़िता को ब्लैकमेल कर रहे थे।

बता दें कि गुजरात में साल के आखिरी में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी कार्यकर्ताओं का रेप केस में नाम आने के बाद विरोधियों को भी उसके खिलाफ एक मुद्दा मिल गया है। ट्विटर पर यूजर्स ने बीजेपी पर कुछ इस तरह से हमला बोल रहे हैं…

https://twitter.com/Kabeerisgod/status/833054558645579776

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here