कश्मीरियों पर विवादास्पद ट्वीट करने वाली लोकसभा टीवी की जागृति शुक्ला का ट्विटर अकाउंट सस्‍पेंड

0

हमेशा अपने भड़काउ ट्वीट को लेकर सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आने वाली लोकसभा टीवी की कार्यरत जागृति शुक्ला एक बार फिर सुर्खियों में हैं। रिपोर्ट के मुताबिक कश्मीरियों को लेकर किए गए एक विवादास्पद ट्वीट के बाद जागृति शुक्ला का ट्विटर अकाउंट सस्पेंड हो गया है। माना जा रहा है कि जागृति के विवादास्पद ट्वीट के कारण ट्विटर इंडिया ने उनका अकाउंट सस्पेंड कर दिया है।

एक विशेष वर्ग के खिलाफ जहरीला ट्वीट कर विवादों में रहनी वालीं शुक्ला का विवादित ट्वीट्स के स्क्रीनशॉट सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहे हैं। दरअसल, कश्मीर के अलगाववादी नेता मीरवाइज उमर फारूक ने पेलेट गन पीड़ितों की एक तस्‍वीर ट्वीट सुरक्षा बलों की कार्रवाई पर सवाल उठाया था। फारूक के इसी ट्वीट को रीट्वीट करते हुए जागृति शुक्ला ने लिखा कि इन पर तो पेलेट गन की जगह असली गोली का इस्तेमाल करना चाहिए था। नतीजा और भी बेहतर होता।

इस विवादित ट्वीट्स को लेकर सोशल मीडिया पर शुक्ला की तीखी आलोचना हो रही है। आपको बता दें कि हाल ही में जागृति शुक्ला को केंद्र सरकार के स्वामित्व वाले चैनल लोकसभा टीवी ने अपने यहां बतौर कंसल्टेंट नौकरी पर रखा था। इस नियुक्ति को लेकर काफी विवाद भी हुआ था। इससे पहले भी कश्मीर पर ही जागृति का एक और ट्वीट काफी वायरल हुआ था।

वहीं, यूपी के कासगंज हिंसा के दौरान भी जागृति के एक ट्वीट के चलते ट्विटर ने उन पर कार्रवाई की थी। जागृति शुक्ला ने ट्वीट कर लिखा था, ‘उन्‍होंने हमें ट्रेन में मारा, हमारे विमान लूटे, होटल में हमें बंधक बनाया, हमें कश्‍मीर से भागने पर मजबूर किया और अब गणतंत्र दिवस पर तिरंगा फहराने के लिए मार रहे हैं। सच ये है कि हम डर में रहते हैं, वो नहीं, अब और नहीं। हमेशा घातक हथियार साथ में रखिए। उन्‍हें मार दीजिए, इससे पहले वो हमें मार दें।’

जिसके बाद ट्विटर ने जागृति शुक्ला के अकाउंट को सस्पेंड कर दिया गया था। हांलाकी, बाद में माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर ने भड़काऊ ट्वीट डिलीट करने के बाद उनका अकाउंट बहाल कर दिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here