वीडियो टेप में खुलासा: महिलाओं पर अश्लील टिप्पणियां करने से घिरे डोनाल्ड ट्रंप

0

अमेरिका के राष्ट्रपति पद के चुनाव में रिपब्लिकन उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप की प्रचार मुहिम को वर्ष 2005 का उनका एक ऐसा वीडियो टेप सामने आने से बड़ा झटका लगा है जिसमें वह महिलाओं के खिलाफ अभद्र टिप्पणियां करते दिखाई दे रहे हैं और इसके कारण ट्रंप को लोगों से माफी मांगनी पड़ी।

‘वॉशिंगटन पोस्ट’ के पास मौजूद वीडियो में ट्रंप रेडियो एवं टीवी प्रस्तोता बिली बुश के साथ बातचीत के दौरान महिलाओं के बारे में, बिना सहमति के महिलाओं को छूने और उनके साथ यौन संबंध बनाने के बारे में बेहद अश्लील टिप्पणियां करते दिखाई दे रहे हैं. उनकी बात माइक्रोफोन पर आ गई।

इन टिप्पणियों पर मचे बवाल के बाद ट्रंप ने कहा, “यह लॉकर रूम में किया गया मजाक था। यह एक निजी बातचीत थी जो कई वर्ष पहले हुई थी। बिल क्लिंटन ने गोल्फ कोर्स में मेरी बातों से भी कहीं अधिक बुरी बातें कहीं थीं.” ट्रंप ने माफी मांगते हुए कहा, ”यदि इससे कोई अपमानित हुआ है, तो मैं माफी मांगता हूं.।

भाषा की खबर के अनुसार, राष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए डेमोक्रेटिक पार्टी की उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन ने इन टिप्पणियों को लेकर ट्रंप पर निशाना साधते हुए कहा, ”यह शर्मनाक है। हम ऐसे व्यक्ति को राष्ट्रपति नहीं बनने दे सकते.” उपराष्ट्रपति पद के लिए डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार टिम केन ने कहा, ”इस प्रकार का व्यवहार घृणास्पद है. यह सुनकर मुझे घिन आती है।”

हालात यह हैं कि खुद ट्रंप की पार्टी के लोगों ने भी उनकी माफी स्वीकार करने से इनकार कर दिया है। राष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए रिपब्लिकन उम्मीदवार बनने के पूर्व दावेदार जेब बुश ने कहा, ”दो अनमोल लड़कियों का दादा होने के नाते, मुझे लगता है कि महिलाओं को अपमानित करने वाली डोनाल्ड ट्रंप की इन निंदनीय टिप्पणियों के लिए कोई माफी नहीं हो सकती।”

प्रतिनिधि सभा के स्पीकर पॉल रयान ने एक बयान में कहा कि महिलाओं के बारे में ट्रंप की 2005 की टिप्पणियों से उन्हें ”घृणा” हो रही है।”महिलाओं को एक चीज या देह के रूप में नहीं देखा जाना चाहिए, वे आगे बढ़ाए जाने एवं सम्मान के योग्य हैं.” ट्रंप की पार्टी के प्रमुख रींसे प्रीबस ने कहा, ”किसी भी महिला के बारे में इन शब्दों में या इस प्रकार से बात नहीं की जा सकती। कभी नहीं।

रयान और ट्रंप रविवार रात को विस्कॉन्सिन में एक चुनावी रैली में भाग लेने वाले थे लेकिन अब ट्रंप इस रैली में भाग नहीं लेंगे और उनकी जगह रिपब्लिकन पार्टी के उपराष्ट्रपति पद के उम्मीदवार माइक पेंस इसमें शामिल होंगे।

राष्ट्रपति पद के चुनाव में दोनों पार्टियों के उम्मीदवारों की रविवार को दूसरी बहस होनी है। ऐसे समय में इस वीडियो के सामने आने से ट्रंप की प्रचार मुहिम को गहरा झटका लग सकता है।

LEAVE A REPLY