इंडिया टुडे के पत्रकार को किया गया ट्रोल, तीन तलाक को लेकर पोस्ट किया था विवादास्पद ट्वीट

0

तीन तलाक का मुद्दा इन दिनों बेहद गर्माया हुआ है। भारतीय समाचार चैनलों के लिए ये सर्वाधिक TRP दिलाने वाली कहानी है। इस्लामोफोबिया की खबरें दिखाना चैनलों की दिनचर्या का खास हिस्सा होता है और पत्रकारिता की ओट में वह लगातार ऐसे एजेंडे को आगे बढ़ाने के लिए लगातार बदनाम रहते है।

इंडिया टुडे

इस प्रकार की धारणाए भारतीय समाचार चैनलों पर सामान्य बात है शुक्रवार को इंडिया टुडे के पत्रकार का इसी विषय पर किए गए ट्वीट ने एक बड़ी बहस को जन्म दिया।

रिपोर्टर गौरव सावंत ने ट्वीट करते हुए कहा कि कल्पना चावला अंतरिक्ष पहुंच गई, किरन बेदी आईपीएस बनी, मुस्लिम महिलाएं तीन तलाक से ही जूझ रही है।

गौरव सावंत ने दो अन्य ट्वीट किए जिसमें उन्होंने ट्रिपल तलाक पर दबी हुई महिलाओं की बात कहीं व बताया कि दुनिया के किन देशों में इस पर प्रतिबंध लगाया गया है।

सोशल मीडिया पर उनके ये ट्वीट लोगों को नाराज करने के लिए काफी थे, सावंत पर लोगों ने कथित तौर पर आरोप लगाया कि वह मुस्लिम महिलाओं की केवल पीड़ित छवि को ही चित्रित कर रहे है। इसके बाद ट्वीटर पर पत्रकार के प्रति गुस्से को जाहिर किया जाने लगा।#MuslimWomenAchievers नाम से उनके ट्वीट के खिलाफ ट्रेंड होने लगा।

इसके बाद पत्रकार पर गुस्सा दिखाते हुए लोगों ने हैशटेग का इस्तेमाल करते हुए राष्ट्रीय स्तर पर पहचान बना चुकी महिलाओं की तस्वीरों को पोस्ट करना शुरू कर दिया। ये वह महिलाएं थी जिन्होंने अपने देश, परिवार और समाज के नाम को आगे बढ़ाया था।

ट्वीटर पर मचे इस बवाल का सामना करने के बाद, सावंत को एक स्पष्टीकरण जारी करने के लिए मजबूर होना पड़ा, जिसमें उन्होंने कहा कि कल्पना चावला और किरण बेदी वाला ट्वीट उनके कार्यक्रम में हिस्सा लेने वाले प्रतिभागियों द्वारा कहीं बातों का हिस्सा था उनका मूल विचार नहीं। उसे इस जानकारी के साथ ट्विटर पर उसे प्लग किया गया था।

लोगों के बीच फैली नाराजगी को उनके इस ट्वीट ने कुछ हद तक रोक दिया जो गर्व के साथ आगे बढ़ने वाली अन्य मुस्लिम महिलाओं के नामों को पोस्ट कर रहे थे। इस तरह के कुछ उदाहरण यहां दिए गए है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here