VIDEO: मॉब लिंचिंग के सवाल पर ‘बयान वीर’ CM बिप्लब देब बोले- ‘त्रिपुरा में आनंद की लहर है, मेरा चेहरा देखिए… मेरे मन में कितना खुशी है’

0

पिछले कुछ समय से देश भर में कई जगहों पर मॉब लींचिंग (भीड़ द्वारा की जा रही हत्या) की घटनाएं देखने को मिला हैं। झूठी अफवाहों के चलते भीड़ ने कई लोगों को पीट-पीटकर मौत के घाट उतारा है। अभी हाल ही में त्रिपुरा के अलग-अलग हिस्सों में बच्चा चोर होने के संदेह में चार लोगों की पीट-पीट कर हत्या की दी गई। देशभर में उग्र भीड़ (मॉब लिंचिंग) ने विभिन्न राज्यों में करीब 27 लोगों की जान ले ली है। जिसके बाद हरकत में आई केंद्र सरकार ने व्हाट्सऐप को नोटिस भेजा है और अफवाहों पर लगाम लगाने के लिए जरूरी कदम उठाने के लिए कहा है।

(Sushil Kumar/HT File Photo)

इस बीच अक्सर अपने बयानों को लेकर सुर्खियां बटोरने वाले त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब से जब पत्रकारों ने मॉब लिंचिंग को लेकर सवाल पूछा तो उन्होंने ऐसा जवाब दिया जिस पर विवाद खड़ा हो गया है। सीएम देब से जब राज्य में घटित हुई हिंसक घटनाओं के बारे में सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि त्रिपुरा में आज एक आनंद की लहर चल रही है। आप भी एक लहर का उपभोग कीजिए। आपको आनंद आना चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि मेरा चेहरा देखिये…मुझे कितनी खुशी हो रही है। ये सरकार जनता की सरकार है। जनता ही ऐक्शन लेगी।

सीएम बिप्लब देब के इस बयान का वीडियो अंग्रेजी समाचार चैनल टाइम्स नाउ ने ट्वीट किया है, जिसमें वह यह कहते हुए दिखाई देते हैं, ”आज त्रिपुरा में एक आनंद का लहर बैठ रहा है और इस लहर का आप (पत्रकार) भी उपभोग करिए… आपके मन में भी आनंद आए और आप देखिए, सोच लीजिए एक बार.. मैं खुद… मेरा चेहरा देखिए एकबार… मेरे मन में कितना खुशी है… तो आपके मन भी उतना ही खुशी है न… तो आज के दिन में आप भूल जाइए..।”

मुख्यमंत्री बिप्लब देब के इस बयान को सुनकर वहां मौजूद पत्रकार हैरान रह गए, क्योंकि उनको उम्मीद थी कि सीएम भीड़ द्वारा की जा रही हत्याओं को रोकने के लिए सरकार की ओर से उठाए गए कदमों की जानकारी देंगे। वैसे आपको बता दें कि यह पहली बार नहीं है जब मुख्यमंत्री ने अपने बयानों की सुर्खियां बटोरी हैं। इससे पहले भी उन्होंने महाभारत काल में इंटरनेट और सैटेलाइट होने का दावा कर सुर्खियों में आ चुके हैं।

इसके अलावा वह युवाओं को नौकरियों के बदले पान की दुकान खोलने की सलाह भी दे चुके हैं। इससे पहले बिप्लब कुमार देब को डायना हेडन को 1997 में मिस वर्ल्ड खिताब जीतने पर सवाल उठाने और अंतरराष्ट्रीय सौंदर्य प्रतियोगिताओं को छलावा बताने से जुड़ी अपनी टिप्पणी के लिए माफी मांगनी पड़ी थी। वहीं मुख्यमंत्री ने कहा था कि उनकी सरकार पर कोई अंगुली नहीं उठा सकता, नाखून भी नहीं लगा सकता, जो नाखून लगाएगा उसका नाखून काट दिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here