PM मोदी की रैली के लिए ट्रेन बुक करवाने वाले BJP नेता ने नहीं भरा 12 लाख रुपए का बिल, रेलवे ने भेजा नोटिस

0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली के लिए वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान ट्रेन बुक करवाने वाले भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) के वरिष्ठ नेता विनोद सामरिया इन दिनों मुश्किलों का सामना कर रहे हैं। रेलवे ने नोटिस भेजकर बीजेपी नेता से 12.29 लाख रुपए का बिल जल्‍द से जल्द जमा करवाने को कहा है। लेकिन हैरानी की बात यह है कि बीजेपी अब सामरिया का साथ देने को तैयार नहीं है।रिपोर्ट के मुताबिक, आगरा के रहने वाले सामरिया को पिछले 2 वर्षों में रेलवे की ओर से 12 लाख रुपए का बकाया चुकाने के 6 नोटिस भेजे जा चुके हैं। दरअसल, रेलवे का यह बकाया 2014 से ही लंबित हैं। आम चुनावों के पहले विनोद सामरिया 2 मार्च, 2014 को तत्कालीन प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी की विजय शंखनाद रैली के लिए पार्टी कार्यकर्ताओं को फतेहपुर सीकरी से यूपी के राजधानी लखनऊ लाए थे।

अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, फतेहपुर सीकरी से लखनऊ जाने की यह स्‍पेशल ट्रेन 19 बोगियों की थी और इसे 18.4 लाख रुपए में बुक करवाया गया, जिसमें 5 लाख की सिक्योरिटी भी शामिल थी। बीजेपी ने पार्टी फंड से इसका भुगतान ट्रेन चलने से पहले रेलवे को कर दी।

लेकिन रेलवे ने इस खर्चे को 30.68 लाख तक बढ़ा दिया, क्योंकि ट्रेन को 4 स्टेशनों(किरावली, मिढ़ाकुर, पथौली और एत्मादपुर) पर पार्टी समर्थकों को लेने के लिए रोका गया था। अग्रिम भुगतान को समायोजित करते हुए अंतिम बिल राशि 12.3 लाख रुपये के करीब आई।

सामरिया को उम्मीद थी कि बीजेपी द्वारा पार्टी फंड से इस बिल का भुगतान कर दिया जाएगा, लेकिन 11 मई को रेलवे के ताजा नोटिस के बाद सामरिया की चिंता बढ़ गई। 2014 में फतेहपुर सीकरी नगर यूनिट में पार्टी अध्यक्ष रहे सामरिया ने बताया कि ट्रेन मेरे नाम पर ही बुक थी।

उन्होंने कहा कि मैं एक मामूली किसान हूं और इतने बिल का भुगतान नहीं कर सकता। रेलवे के नोटिस से परेशान सामरिया ने कहा कि उन्होंने पार्टी के जिला अध्यक्ष, राज्य के पार्टी अध्यक्ष, रेलमंत्री सुरेश प्रभु और रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा से बात की है, लेकिन अभी तक कोई राहत नहीं मिली है।

समारिया ने दावा किया कि वे इस इस बकाए के भुगतान के लिए रेल मंत्री सुरेश प्रभु से मिलकर बात की, लेकिन उन्‍होंने दखल देने से इनकार कर दिया। सामरिया ने कहा कि जब शुरुआती बकाया का भुगतान पार्टी फंड से कर दिया गया तो बाकी का भुगतान भी पार्टी फंड से ही होना चाहिए। उन्होंने कहा कि अगर पार्टी बिल का भुगतान नहीं करती है तो रेलवे उनकी संपत्ति कुर्क कर सकती है।

 

 

 

 

Pizza Hut

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here