सबसे बड़ी होगी इस बार की ट्रेड यूनियन हड़ताल, 15 करोड़ श्रमिक होंगे शामिल

0

देश के प्रमुख केंद्रीय श्रमिक संगठनों ने कहा है कि वे दो सितंबर को राष्ट्रव्यापी हड़ताल की घोषणा पर कायम हैं और इस बार की हड़ताल पिछले साल की तुलना में बड़ी होगी. उनका कहना है कि सरकार ने उनकी 12 सूत्री मांगों पर ध्यान नहीं दिया है और सरकार एकतरफा तरीके से श्रम सुधार लागू कर रही है।

Also Read:  संघ मुक्त भारत का सपना अच्छा है लेकिन मुलायम जैसे नेताओं के रहते सम्भव नही है

भाषा की खबर के अनुसार, केंद्रीय संगठनों ने दावा किया है कि इस साल हड़ताल में करीब 15 करोड़ श्रमिक शामिल होंगे और यह पिछले साल से भी बड़ी होगी क्योंकि इस बार भारतीय मजदूर संघ के सदस्य भी इसमें शामिल होंगे।

Also Read:  मालेगाव धमाका: साध्वी प्रज्ञा को क्लीन चिट, NIA ने बदला अपना रुख
Congress advt 2

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़ा भारतीय मजदूर संघ इकलौता बड़ा संगठन है जो हड़ताल की इस घोषणा से अपने को दूर रखे हुए है क्योंकि सरकार ने यूनियनों की मांगों पर विचार करने का आश्वासन दे रखा है.

हड़ताल का आह्वान करने वाली यूनियनों की बुधवार को यहां एक संयुक्त प्रेसवार्ता में सीटू के महासचिव तपन सेन ने कहा कि भारतीय मजदूर संघ के कुछ नेताओं ने इससे अलग रहने की बात की है लेकिन इसकी राज्य इकाइयां हड़ताल में शामिल होंगी. उन्होंने कहा कि श्रमिक सरकार के उकसावे से की जाने वाली संदिग्ध गविधियों का करारा जवाब देंगे.

Also Read:  ओडिशा सरकार की रिपोर्ट के मुताबिक 41 किसानों ने खुदकुशी की

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here