सितंबर महीने में निर्यात 4.62 प्रतिशत बढ़ा, व्यापार घाटा नौ महीने के उच्चतम स्तर पर

0

दो महीने की गिरावट से बाहर निकलते हुए सितंबर महीने में निर्यात 4.62 प्रतिशत बढ़कर 22.9 अरब डॉलर रहा। इंजीनियरिंग और रत्न एवं आभूषण जैसे क्षेत्रों में अच्छी वृद्धि से निर्यात में वृद्धि दर्ज की गयी हैं पिछले वर्ष इसी महीने में निर्यात 21.8 अरब डॉलर था। जिन क्षेत्रों में सकारात्मक वृद्धि से निर्यात बढ़ा, उसमें इंजीनियरिंग (6.51 प्रतिशत), रत्न एवं आभूषण (22.42 प्रतिशत), हस्तशिल्प (23 प्रतिशत), परिधान (12.62 प्रतिशत) तथा रसायन (छह प्रतिशत) शामिल हैं।

Also Read:  US business schools can study India's GST implementation: Modi

exports_650x400_81474968570

वाणिज्य मंत्रालय के आंकड़े के अनुसार हालांकि आयात 2.54 प्रतिशत घटकर 31.22 अरब डॉलर रहा। इससे व्यापार घाटा आलोच्य महीने में कम होकर 8.33 अरब डॉलर रहा। हालांकि व्यापार घाटा पिछले नौ महीने में सबसे अधिक है। दिसंबर 2015 में यह 11.66 अरब डालर था। वहीं पिछले साल सितंबर महीने में व्यापार घाटा 10.16 अरब डॉलर था।

भाषा की खबर के अनुसार, इस पर अपनी प्रतिक्रिया में भारतीय निर्यात संगठनों का परिसंघ (फियो) ने कहा, ‘अगर यह प्रवृत्ति बनी रही तो हम चालू वित्त वष्र में 280 अरब डॉलर या उससे अधिक निर्यात हासिल कर सकते हैं।’ फियो ने बयान में कहा कि सरकार ने जो समर्थन दिया है, उसका असर आने वाले महीनों में निर्यात आंकड़े में दिखेगा।

Also Read:  बिहार की 15वीं विधानसभा भंग, नीतीश जद (यू) विधायक दल के नेता चुने गए

चालू वित्त वर्ष में अप्रैल-सितंबर के दौरान निर्यात 1.74 प्रतिशत घटकर 131.4 अरब डॉलर रहा। आयात भी 13.77 प्रतिशत की गिरावट के साथ 174.4 अरब डॉलर रहा। इससे व्यापार घाटा 43 अरब डॉलर का रहा। हालांकि पेट्रोलियम वस्तुओं का निर्यात सितंबर महीने में 1.43 प्रतिशत घटकर 2.55 अरब डॉलर रहा। तेल आयात आलोच्य महीने में 3.13 प्रतिशत बढ़कर 6.88 अरब डॉलर रहा। वहीं दूसरी तरफ गैर-तेल आयात 4.0 प्रतिशत घटकर 24.33 अरब डॉलर रहा।

Also Read:  जावेद अली ने टीवी शो 'संकट मोचन महाबली हनुमान' के लिए गाया गीत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here