दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल की बेटी हर्षिता से 34 हजार रुपये ठगी मामले में तीन लोग गिरफ्तार, मुख्य आरोपी अब भी फरार

0

आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की बेटी हर्षिता से ठगी के मामले में कार्रवाई करते हुए पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। हर्षिता केजरीवाल से 7 फरवरी को 34,000 रुपये की ठगी की गई थी।

अरविंद केजरीवाल

समाचार एजेंसी पीटीआई (भाषा) की रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस ने सोमवार को बताया कि इस मामले में तकनीकी निगरानी के आधार पर भरतपुर-मथुरा सीमा से साजिद (26), कपिल (18) और मनविंदर सिंह (25) को गिरफ्तार किया गया है। साजिद हरियाण के नूह का निवासी है जबकि कपिल और सिंह मथुरा के रहने वाले हैं। पुलिस के अनुसार मुख्य आरोपी वारिस (25) अब भी फरार है।

मुख्यमंत्री की बेटी को इन चारों में एक ने कथित रूप से 34,000 रूपये ठग लिए थे। आरोपियों ने एक ई-कॉमर्स प्लेटफार्म पर खरीददार के रूप में मुख्यमंत्री की बेटी से संपर्क किया था जिन्होंने एक सोफा बिकी के लिए इस मंच पर डाला था। अधिकारी ने कहा, ‘‘तीनों कमीशन की खातिर वारिस के लिए काम करते थे। मनविंदर ने फर्जी दस्तावेजों के आधार पर कपिल एवं साजिद के लिए बैंक खाते खुलवाए जिसके लिए उसे कमीशन मिला। ठगी गई राशि वारिस के खाते में अंतरित की गई।’’

पुलिस के अनुसार पीड़िता ने ई-कॉमर्स पर सोफा बिक्री के लिए डाला था। एक व्यक्ति ने इसे खरीदने की बात करते हुए पीड़िता से संपर्क किया था। इस व्यक्ति ने पीड़िता के खाते विवरण की पुष्टि के लिए प्रारंभ में मामूली राशि उनके खाते में अंतरित की।

अधिकारी के मुताबिक इस व्यक्ति ने विक्रेता (मुख्यमंत्री की बेटी) को क्यूआर कोड भेजा और उसे स्कैन करने के लिए कहा ताकि निर्धारित मूल्य उनके खाते में भेजा जा सके, लेकिन पैसा आने के बाद उसके खाते से 20,000 रूपये कट गए।

अधिकारी के अनुसार जब विक्रेता ने यह बात खरीददार को बताई तो उसने विक्रेता से कहा कि उसने गलती से उसे गलत क्यूआर कोड भेज दिया, इसलिए अब वह उन्हें एक अन्य लिंक भेजेगा तथा वह उसी प्रक्रिया को दोहराएं। विक्रेता द्वारा अन्य क्यूआर कोड को स्कैन करने पर फिर 14,000 रूपये फिर से कट गए। इस संबंध में सात फरवरी को भादंसं की संबंधित धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here