ब्रिटिश महिला यात्री के पहनावे को देखकर एयरलाइन ने कहा- इन्हें बदलो या बाहर निकलो, महिला ने बयां किया दर्द

0

थॉमस कुक एयरलाइन्स ने एक महिला को सिर्फ इसलिए यात्रा करने से मना कर दिया क्योंकि उसने क्रॉप टॉप पहना था। एयरलाइन ने उनके कपड़ों को ऑफेंसिव बताते हुए अन्य कपड़े पहनने या फिर फ्लाइट से बाहर चली जाने को कहा। वेस्ट मिडलैंड्स के बर्मिंघम की निवासी एमिली ओ’ कोन्नर ने इसको लेकर ट्विटर पर अपना गुस्सा व्यक्त किया है। एमिली के साथ ये सब तब हुआ जब वे इंग्लैंड के बर्मिंघम से कैनरी आईलैंड जा रही थीं।

थॉमस कुक एयरलाइन्स

बीते दिनों एमिली इंग्लैंड के बर्मिंघम से कैनरी आईलैंड जा रही थीं तब थोमस कुक के स्टाफ ने उनसे कहा कि जो क्रॉप टॉप और हाईवेस्ट पैंट उन्होंने पहनी है वह काफी ऑफेंसिव है। ऐसे में या तो वे इसे बदलें या फिर इसे ढके या फ्लाइट से बाहर चली जाएं। हालांकि, एमिली को सेक्योरिटी पार करने में कोई मुश्किल नहीं हुई थी लेकिन आगे उनके साथ ये सब हुआ जिससे वे परेशान हो गईं।

एमिली एयरलाइन की सेक्योरिटी को आसानी से पार कर गईं लेकिन फ्लाइट के भीतर एयरलाइन के स्टाफ के चार लोग उन्हें कपड़े बदलने को दबाव बनाने लगे और ऐसा न करने पर उन्हें बाहर निकालने को तैनात थे।

महिला ने कहा, मैंने अपने आसपास के यात्रियों से पूछा कि क्या मेरे कपड़े खराब दिख रहे हैं तो किसी ने जवाब नहीं दिया जिससे मुझे काफी शर्मिंदगी हुई। मैनेजर मुझे फ्लाइट से निकालने के लिए मेरा बैग लेने चला गया। इसके बाद पास के ही किसी आदमी ने गुस्से में कहा कि क्या आप ऊपर जैकेट नहीं पहन सकतीं। कर्मचारियों ने उसे कुछ भी नहीं कहा।

उन्होंने बताया, फ्लाइट स्टाफ के रवैये को देखते हुए मेरे कज़न ने मुझे जैकेट दिया पर वह लोग तब तक वहां से नहीं गए जब तक मैंने जैकेट पहन नहीं लिया।

इस घटना पर बवाल बढ़ता देख एयरलाइन्स की तरफ से माफी मांगी गई है। एयरलाइन्स की तरफ से कहा गया है कि, ‘हम अपने स्टाफ की तरफ से किये गए व्यवहार के लिए आपसे माफी मांगते हैं। हम इस सिचुएशन को बेहतर तरीके से हैंडल कर सकते थे।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here