जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में आतंकवादियों ने BJP के 3 कार्यकर्ताओं की गोली मारकर की हत्या, पीएम मोदी ने जताया दुख

0

जम्मू-कश्मीर के कुलगामा जिले में गुरुवार को आतंकवादियों ने भाजपा के तीन कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या कर दी। लश्कर-ए-तैयबा के मुखौटा संगठन माने जाने वाले ‘द रेजिस्टेंस फ्रंट’ (टीआरएफ) ने इन हत्याओं की जिम्मेदारी ली है। इस घटना पर पीएम मोदी, उमर अब्दुल्ला समेत कई नेताओं ने दुख जताया है।

जम्मू-कश्मीर

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि गुरुवार देर शाम कुलगाम जिले के वाई के पोरा इलाके में फिदा हुसैन, उमर हाजम एवं उमर राशीद बेग की आतंकवादियों ने गोली मारकर हत्या कर दी। उन्होंने बताया कि पीड़ितों को काजीगुंड के एक स्थानीय अस्पताल ले जाया गया जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। टीआरएफ ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर हिंदी और अंग्रेजी में डाले संदेश में कहा कि ‘‘कब्रिस्तान भर जायेंगे।’’

जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने राजनीतिक कार्यकर्ताओं की हत्या की निंदा की है। उन्होंने कहा कि हिंसा करने वाले मानवता के शत्रु हैं और ऐसे कायरतापूर्ण कृत्यों को जायज नहीं ठहराया जा सकता। पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा कि अपने तीन युवा कार्यकर्ताओं की हत्या की मैं निंदा करता हूं। जम्मू-कश्मीर में अच्छा काम कर रहे थे। दुख की इस घड़ी में मेरे विचार उनके साथ है। उनकी आत्मा को शांति मिले।

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने हमले की निंदा की है। उन्होंने ट्वीट करके लिखा, ”दक्षिण कश्मीर के कुलगाम जिले से भयावह खबर मिली। मैं आतंकी हमले में 3 भाजपा कार्यकर्ताओं की लक्षित हत्या की निंदा करता हूं। अल्लाह उन्हें जन्नत में जगह दे और इस मुश्किल समय में उनके परिवार को ताकत मिले।”

पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने भी इस घटना पर ट्वीट किया और लिखा, ”कुलगाम में भाजपा के तीन कार्यकर्ताओं की हत्या के बारे में सुनकर दुख हुआ। उनके परिवारों के प्रति संवेदना। आखिरकार, भारत सरकार की बीमार नीतियों की वजह से जम्मू-कश्मीर के लोगों को ही जान गंवानी पड़ती है।”

बता दें कि, जम्मू-कश्मीर में जून से भाजपा कार्यकर्ताओं और नेताओं पर आतंकवादी हमले बढ गए हैं। अब तक ऐसे सात लोगों की हत्या की जा चुकी है। जुलाई में बांदीपुरा में ऐसे ही हमले में भाजपा नेता, उनके पिता और भाई की आतंकवादियों ने हत्या कर दी थी। (इंपुट: भाषा के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here