भड़काऊ भाषण के चर्चित BJP विधायक ने ओवैसी की पार्टी AIMIM के प्रोटेम स्पीकर की मौजूदगी में शपथ लेने से किया इनकार, बताई ये वजह

0

तेलंगाना के नवनिर्वाचित भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के विधायक टी राजा सिंह ने ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) विधायक और विधानसभा के अस्थायी अध्यक्ष मुमताज अहमद खान की मौजूदगी में शपथ लेने से इनकार कर दिया है। राजा सिंह ने कहा कि एआईएमआईएम ‘हिंदुओं के खिलाफ बोलती’ है। उन्होंने कहा कि वह किसी ऐसे व्यक्ति के सामने शपथ नहीं लेना चाहते हैं जिसकी पार्टी हिंदुओं को खत्म करना चाहती है। बता दें कि मुमताज अहमद खान एआईएमआईएम के विधायक हैं।

हैदराबाद
file photo

आपको बता दें कि विधानसभा चुनावों के बाद 17 जनवरी को नए विधानसभा के पहले सत्र के पहले दिन सभी विधायकों को शपथ दिलाई जाएगी। खान ही 17 जनवरी को होने वाले शपथ ग्रहण समारोह में प्रोटेम स्पीकर के रूप में कार्य करेंगे। गोशामहल से विधायक चुने गए टी राजा सिंह ने अपने वीडियो संदेश में मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव से मांग की कि वह खान को विधानसभा के अस्थायी अध्यक्ष के तौर पर नियुक्त करने के निर्णय पर पुनर्विचार करें।

खान ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के वरिष्ठ नेता हैं। एआईएमआईएम को एक राष्ट्रविरोधी पार्टी कहते हुए सिंह, जो नव-निर्वाचित तेलंगाना विधानसभा में भाजपा के एकमात्र विधायक हैं, ने कहा, ‘‘तेलंगाना के मुख्यमंत्री राव निजाम (हैदराबाद राज्य के पूर्व शासक) और एमआईएम के प्रशंसक रहे हैं। उन्होंने एमआईएम के विधायक को विधानसभा का अस्थायी अध्यक्ष नियुक्त करने का फैसला किया है… मैं विधानसभा नहीं जाऊंगा और उनकी मौजूदगी में विधायक पद की शपथ नहीं लूंगा। अन्य पार्टी के नेता जा सकते हैं लेकिन मैं नहीं जाऊंगा’।

#Telangana government decided to make #AIMIM MLA as pro-tem Speaker of newly elected #Telangana Assembly.I wouldn't take Oath in front of such speaker.तेलंगाना की रजाकार सरकार ने ये निर्णय लिया है कि एमआईएम के विधायक को प्रो-टेम स्पीकर बनाएंगे।मैं राजा सिंह इस तरह के देश द्रोही पार्टी से संबंधित स्पीकर के सामने विधायक के रूप में शपत नही लूंगा।जय श्री राम।

Posted by Raja Singh on Sunday, January 6, 2019

गौरतलब है कि बीजेपी विधायक टी राजा को भड़काऊ भाषण एवं विवादित बयान देने के लिए जाना जाता है। उन्होंने कहा कि वह खान की उपस्थिति में विधायक पद की शपथ नहीं लेना चाहते, क्योंकि एआईएमआईएम ‘‘हिंदुओं के खिलाफ बोलती है और इसके नेता ‘वंदे मातरम नहीं गाने या भारत माता की जय’ नहीं बोलने के लिए कहते हैं।”

सिंह ने कहा कि वह शपथ ग्रहण से संबंधित नियमों पर कानून विशेषज्ञों से सलाह-मशविरा लेंगे। नवनिर्वाचित विधानसभा का पहला सत्र 17 से 20 जनवरी तक चलेगा। 16 जनवरी को खान राजभवन में विधानसभा के अस्थायी अध्यक्ष के तौर पर शपथ लेंगे। हालांकि इस पूरे मुद्दे पर एआईएमआईएम ने प्रतिक्रिया देने से इनकार कर दिया। (इनपुट- भाषा/ANI के साथ)

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here