पत्रकार की माँ को गालियां देने वाले कार्यकर्ता को तेजस्वी यादव ने दिखाया पार्टी से बाहर का रास्ता, लोगों ने कहा मोदी जी इनसे कुछ सीख लें

0

राष्ट्रीय जनता दल(राजद) के नेता और बिहार के पूर्व उप-मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने मंगलवार(1 मई) को कुछ ऐसा कर दिखाया जो आज के नेताओं विशेषकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए एक सीख है। उन्होंने अपनी ही पार्टी के अहम कार्यकर्ता को सिर्फ इस बात पर पद से हटा दिया है कि उसने एक वरिष्ठ पत्रकार को सोशल मीडिया पर गाली दी थी।

तेजस्वी यादव

दरअसल, राजद के वैशाली इकाई के एक नेता ने सोमवार को ‘जनता का रिपोर्टर’ की एक रिपोर्ट पर आपत्ति ज़ाहिर करते हुए वेबसाइट के एडिटर इन चीफ और वरिष्ठ पत्रकार रिफत जावेद को भद्दी गालियां दी थी। जिस पर आपत्ति जताते हुए रिफत ने इस की शिकायत तेजस्वी यादव और उनकी बहन व राज्यसभा सांसद मीसा भारती से की थी।

कुछ ही घंटों के भीतर तेजस्वी ने सख्त क़दम उठाते हुए गौतम अधिकारी नाम के इस शख्स को राजद के अहम पद से हटा दिया साथ ही साथ ही उन्होंने रिफत से ट्विटर पर मांफी भी मांगी।

तेजस्वी यादव ने ट्वीट करते हुए लिखा कि, “डियर रिफत जावेद, इसे मेरी जानकारी में लाने के लिए आप का शुक्रिया। मैं इसके लिए उसकी ओर से मांफी मांगता हूं। उसे राजद के छत्रा ब्लॉक प्रमुख पद से फ़ौरन निष्कासित कर दिया गया है। हम ऐसे असामाजिक तत्वों को बढ़ावा नहीं देते हैं। एक मर्तबा फिर से माफ़ी।”

बता दें कि, तेजस्वी के इस क़दम की सोशल मीडिया पर जमकर सराहना हो रही है। कई पत्रकारों ने ट्वीट कर उनकी तारीफ़ की और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उनके उस क़दम से सीख लेनी की नसीहत भी दे डाली।

https://twitter.com/SANDEEP19227567/status/991237636584026112

तेजस्वी यादव की ओर से की गई इस कार्रवाई के बाद रिफत ने टि्वटर पर उनका शुक्रिया अदा किया। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि, “वाह! धन्यवाद। आपका यह कदम भारतीय राजनीति में ताजगी भरी सांस जैसा है। उम्मीद है कि बाकी नेता, खासकर पीएम नरेंद्र मोदी भी इससे कुछ सीख लेंगे। एक बार फिर से शुक्रिया।”

बता दें कि, प्रधानमंत्री मोदी कई ऐसे ट्विटर यूज़र्स को फॉलो करते हैं जो अक्सर पत्रकारों विशेषतः महिला रिपोर्टर्स को बलात्कार और जान से मारने की धमकियां देने के लिए बदनाम हैं।

बता दें कि, अभी हाल ही में रिफत जावेद ने अपनी तीन साल की छोटी बेटी द्वारा बनाए गए एक खूबसूरत पेंटिंग ट्विटर पर शेयर की थी। जिसके बाद देखते ही देखते यह पेंटिंग सोशल मीडिया पर वायरल हो गई और लोगों ने बेटी की प्रतिभा की सराहना करते हुए जमकर तारीफ की।

लेकिन जो दक्षिणपंथी समूह और बीजेपी समर्थक ट्रोलर्स हैं उन्हें रिफत की बेटी की यह पेंटिंग शायद पसंद नहीं आई। बीजेपी और पीएम मोदी का घोर समर्थक जितेंद्र प्रताप सिंह नाम के एक शख्स ने तीन साल की मासूम बच्ची पर बेहद घिनौनी टिप्पणी की है। ऐसे भद्दे कमेंट करने वाले शख्स को प्रधानमंत्री मोदी फॉलो करते हैं। इतना ही नहीं, इस शख्स ने अपने अकाउंट के डिस्प्ले पिक्चर पर पीएम मोदी के साथ तस्वीर भी लगाया है।

जितेंद्र के इस अशोभनीय ट्वीट की सोशल मीडिया पर जमकर आलोचना हुई थी। साथ ही लोग इस बात की भी निंदा कर रहे हैं कि जो व्यक्ति इस तरह की निंदनीय भाषा का प्रयोग करता है उसे भला पीएम मोदी कैसे फॉलो कर सकते हैं। लेकिन उन सबके बाद भी पीएम मोदी ने उसे अन फॉलो नहीं किया

बता दें कि, वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या के बाद सोशल मीडिया पर निखिल दधीच नामक व्यक्ति का एक ट्वीट काफी वायरल हुआ था। इस व्यक्ति ने बेहद आप्पतिजनक और अमर्यादित भाषा का प्रयोग करते हुए गौरी लंकेश की हत्या को सही ठहराया था। साथ ही गौरी लंकेश की हत्या को ‘कुतिया की मौत’ करार दिया था। खास बात यह है कि इस शख्स को भी प्रधानमंत्री मोदी फाॅलो करते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here