गुजरात में यूपी, बिहार के लोगों पर हो रहें हमले को लेकर तेजस्वी यादव ने बीजेपी पर बोला हमला

0

गुजरात के कई हिस्सों में गैर गुजरातियों के खिलाफ हिंसा की घटनाएं देखने को मिल रही हैं। पुलिस के मुताबिक हिंसा के शिकार लोगों में खास तौर पर उत्तर प्रदेश, बिहार एवं मध्य प्रदेश के रहने वाले शामिल हैं। गुजरात में बीते एक सप्ताह से स्थानीय लोग गैर गुजराती मजदूरों को अपना निशाना बना रहे हैं। लोगों के आक्रोश को देखते हुए इन राज्यों के हजारों मजदूर वहां से यूपी, बिहार और मध्य प्रदेश लौटने लगे हैं।

तेजस्वी यादव
फाइल फोटो: तेजस्वी यादव

वहीं, इस मामले को लेकर पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए महाराष्ट्र कांग्रेस के वरिष्ठ नेता संजय निरूपम ने कहा कि पीएम के गृह राज्य में अगर यूपी, बिहार और मध्य प्रदेश के लोगों को मार-मार के भगाया जाएगा तो एक दिन पीएम को भी वाराणसी जाना है, यह याद रखना।

समाचार एजेंसी ANI के मुताबिक संजय निरूपम ने कहा, ‘पीएम के गृह राज्य (गुजरात) में अगर उत्तर प्रदेश, बिहार और मध्य प्रदेश के लोगों को मार-मार के भगाया जाएगा तो एक दिन पीएम को भी वाराणसी जाना है, यह याद रखना।’ उन्होंने आगे कहा, ‘वाराणसी के लोगों ने उन्हें गले लगाया और प्रधानमंत्री बनाया था।’

वहीं, अब इस मामले को लेकर अब राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता व बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि क्या बिहार और यूपी की सरकारे गुजरात के गुंडो के अत्याचार पर रोक नहीं लगवा सकती?

तेजस्वी यादव ने ट्वीट करते हुए लिखा, “सुना है भाजपाई गुजराती लोग नरेंद्र मोदी-अमित शाह जैसे गुजरातियो की मदद से विदेश भागे नीरव मोदी, मेहुल चौकसी, नितिन संदेसरा, कोठारी जैसे गुजराती ठगों द्वारा लूटा हुआ लाखों करोड़ रूपया मेहनतशील बिहारियों से मारपीट कर वसूलना चाहते है। भाईयों, बापू और सरदार पटेल की तो शर्म कर लेते।”

वहीं तेजस्वी ने एक अन्य ट्वीट में लिखा, “गुजरात के लम्पट भाजपाई बिहार और यूपी के लोगों के साथ गुंडागर्दी कर उन्हें गुजरात से भगा रहे हैं। हैरानी होती है, गुजरात, यूपी, बिहार और केंद्र सहित सभी जगह बीजेपी की सरकार है। क्या बिहार और यूपी की सरकारे गुजरात के गुंडो के अत्याचार पर रोक नहीं लगवा सकती? मोदी-शाह से इतना भी मत डरो”।

उल्लेखनीय है कि गुजरात के साबरकांठा जिले के हिम्मतनगर गाभांई में 14 महीने की मासूम के साथ घिनौनी वारदात के सामने आने के बाद गैर गुजरातियों पर लगातार हमले हो रहे हैं। दरअसल, 28 सितंबर को साबरकांठा जिले में 14 माह की एक बच्ची से बलात्कार की घटना सामने आई थी। इस मामले में बिहार के रहने वाले रविंद्र साहू नाम के एक मजदूर को घटना वाले दिन ही गिरफ्तार कर लिया गया था।

इस गिरफ्तारी के बाद सोशल मीडिया पर गैर गुजरातियों- खासकर बिहार, मध्य प्रदेश एवं उत्तर प्रदेश के मजदूरों के खिलाफ कई तरह के संदेश प्रकाशित और प्रसारित हुए जिसके बाद राज्य में गैर गुजरातियों पर हमले होने शुरू हो गए।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, गुजरात में रविवार को भी दो जगहों पर हमले की ख़बर सामने आई थी। गुजरात के डीजीपी शिवानंद झा के मुताबिक अब तक इस मामले में कुल 42 केस दर्ज किए गए हैं, इसके अलावा 342 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here