तलाक को लेकर बिहार विधानसभा में भी दिखा लालू परिवार में तनाव, भाई तेजस्वी यादव और मां राबड़ी देवी से बचते दिखे तेजप्रताप

0

शादी के महज छह महीने में ही पत्नी ऐश्वर्या राय से तलाक की अर्जी दाखिल कर चुके राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष व बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव शुक्रवार (30 नवंबर) को बिहार विधानसभा के मौजूदा शीतकालीन सत्र के अंतिम दिन सदन में दिखाई दिए। हालांकि, इस दौरान हालांकि एक बात तो साफ हो गया है कि परिवार के अंदर चल रही खींचतान अभी समाप्त होने वाला नहीं है।

शुक्रवार को लालू परिवार में जारी घमासान खुलकर सार्वजनिक रूप से दिखाई दी। यह खिंचतान बिहार विधानसभा में उस वक्त दिखा जब विधानसभा सत्र के आखिरी दिन लालू यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव सत्र के दौरान अपने छोटे भाई तेजस्वी यादव और मां राबड़ी देवी से मिलने से बचते दिखाई दिए। आपको बता दें कि प्रदेश के वैशाली जिले के महुआ विधानसभा क्षेत्र से विधायक तेज प्रताप ने तीन नवंबर को तलाक के लिए अर्जी दी थी।

इसके बाद उन्होंने खुद को परिवार और राजनीति से दूर रखा था। काफी दिनों बाद बिहार विधानसभा सत्र के अंतिम दिन शुक्रवार को जब तेजप्रताप यादव विधानसभा पहुंचे, तो सभी की नजरें उन पर ही टिकी रही। तेज प्रताप, श्वेत धोती और कुर्ता पहने शुक्रवार को विधानसभा आए। उन्होंने हल्के सफेद रंग की बंडी पहनी थी और ललाट पर लाल रंग का टीका भी लगाया था।

तेजप्रताप इस दौरान अपने छोटे भाई तथा विधानसभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव तथा अपनी मां व बिहार की पूर्व सीएम राबड़ी देवी से बचते रहे। यह तलाक के मसले पर परिवार में परेशानी को दर्शाता है। तेज प्रताप ने वैवाहिक विवाद के बारे में पूछे गए किसी भी सवाल का जवाब देने से इंकार कर दिया, लेकिन वह अपनी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल का बचाव करते दिखे।

कार में बैठने से पहले तेज प्रताप ने पत्रकारों से कहा कि बिहार में अस्थिरता की स्थिति है। लोगों की दुर्दशा की ओर सरकार का ध्यान आकर्षित कराने के लिए विपक्ष को जो भी संभव हो करना चाहिए। बता दें कि पिछले दिनों तेजप्रताप ने कहा था कि घुट-घुट कर जीने से कोई फायदा नहीं है। यह सच्चाई है कि हमने तलाक के लिए कोर्ट में अर्जी दाखिल किया है। कोर्ट का निर्णय करेगी के ऐसी जिंदगी जीने से घुट-घुट कर जीना बेहतर है या तलाक ले लेना।

शादी के पांच महीने बाद ही तलाक की दी अर्जी

आपको बता दें कि तेजप्रताप ने एश्वर्या राय से शादी के पांच महीने बाद ही पटना की दिवानी अदालत में तलाक के लिए अर्जी दाखिल कर दी है। लालू प्रसाद के बड़े बेटे और राज्य के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव ने एक स्थानीय अदालत में अर्जी दाखिल कर अपनी पत्नी ऐश्वर्या राय से तलाक की गुहार लगाई है। एश्वर्या राजद के वरिष्ठ नेता चंद्रिका राय की बेटी और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री दरोगा राय की पोती हैं।

तेज प्रताप की ओर से दी अर्जी में संबंधों में सामंजस्य नहीं होने को वजह बताते हुए तलाक मांगा गया है। स्थानीय दीवानी अदालत में तेजप्रताप की तरफ से अर्जी दाखिल करने वाले वकील यशवंत कुमार शर्मा ने बताया कि हिंदू विवाह अधिनियम की धारा 13-ए के तहत तलाक मांगा गया है। इस धारा के तहत पति या पत्नी में से कोई भी एक तरफा तरीके से तलाक मांग सकता है। तेज प्रताप और ऐश्वर्या की शादी लगभग छह महीने पहले 12 मई को हुई थी।

इस शादी में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एवं केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान सहित हर पार्टी के नेता और कई गणमान्य लोग शरीक हुए थे। ऐसी अटकलें रही हैं कि तेजप्रताप और ऐश्वर्या के बीच शादी के बाद से ही बनती नहीं है। गौरतलब है कि लालू प्रसाद के राजनीतिक तौर पर सक्रिय नहीं होने के कारण अघोषित रूप से तेजस्वी ही राजद की अगुवाई कर रहे हैं।तेजप्रताप यह संकेत भी देते रहे हैं कि अपने छोटे भाई तेजस्वी यादव से उनके संबंध बहुत अच्छे नहीं हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here