तारिक फतह एक बार फिर फर्जी खबर फैलाते हुए पकड़े गए, पाक क्रिकेट के दिग्गज को ‘इस्लामिक धर्मगुरु’ बताने पर भारतीयों ने किया ट्रोल

0

पाकिस्तानी मूल के कनाडाई लेखक तारिक फतह एक बार फिर फर्जी खबर फैलाते हुए पकड़े गए हैं। तारिक फतह, जिन्होंने कुछ साल पहले अपने इस्लामिक विरोधी बयानों के कारण ख्याति अर्जित की थी, एक बार फिर से फर्जी खबर शेयर कर चर्चा में हैं। अपने जन्म के देश पाकिस्तानी और दुनिया भर के मुसलमानों के खिलाफ नफरत उगलने के लिए जाने जाने वाले फतह ने शनिवार को पाकिस्तानी क्रिकेट कप्तान सरफराज अहमद की एक तस्वीर साझा करते हुए दावा किया कि उन्होंने रविवार को भारत-पाक के बीच होने वाले महामुकाबले मैच से पहले पिच का निरीक्षण के लिए एक मुस्लिम धर्मगुरु की मदद मांगी थी।

तारिक फतह ने जो तस्वीर शेयर की है उसमें सरफराज को अपने समय के दिग्गज बल्लेबाज और वर्तमान में पाकस्तान चयन समिति की प्रमुख इंजाम उल हक और एक पिच रोलर के बगल में खड़ा देखा जा सकता है। आपको बता दें कि विश्व ख्याति प्राप्त बल्लेबाज इंजमाम को क्रिकेट छोड़ने के बाद अब अक्सर एक पारंपरिक इस्लामिक पोशाक में देखा जाता है।

पाकिस्तान में रहने वाले या क्रिकेट में रुचि रखने वाला हर शख्स इस पूर्व दिग्गज पाकिस्तानी बल्लेबाज को इसी परिचित रूप को देखता आ रहा है, लेकिन फतह ने कट्टर प्रतिद्वंद्वी भारत के खिलाफ रविवार के मैच से पहले ईश्वरीय मदद के लिए इस्लामिक पुजारी की मदद लेने का आरोप लगाते हुए पाकिस्तानी कप्तान का मजाक उड़ाने के लिए ट्विटर का सहारा लिया।

फतह ने लिखा है कि क्रिकेट विश्व कप 2019 एक विचित्र तमाशा है, जिसे केवल पाकिस्तानी ही पेश कर सकते हैं। कैप्टन सरफराज अहमद ने भारत के खिलाफ कल के मैच के लिए पिच को आशीर्वाद देने के लिए अपने 13वें व्यक्ति, एक मुल्ला को उतारा। इस रत्न को साझा करने के लिए @ Sachin_anshu06 का धन्यवाद।

इस ट्वीट के बाद सोशल मीडिया पर उन्हें ट्रोल किया जा रहा है। कई भारतीयों ने उन्हें याद दिलाते हुए जवाब दिया कि वह एक नकली समाचार आइटम के साथ शरारत फैलाने की कोशिश कर रहे हैं। रोशन राय नाम के एक भारतीय ने लिखा है कि अजीब बात है कि हम इंजमाम की बल्लेबाजी और उनकी आलसी लालित्य को देखकर कैसे बड़े हुए और उन्हें खेल की किंवदंती माना और एक हैटमॉन्गर हमें बताता है कि उनकी एकमात्र पहचान यह है कि वह ‘मुल्ला’ हैं।

देखें, लोगों की प्रतिक्रियाएं:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here