पीयूडीपाई के साथ जारी जंग में भारतीय टी सीरीज ने मारी बाजी, यूट्यूब पर 10 करोड़ सब्सक्राइबर हुए

0
6

भारत की टी-सीरीज़ (T-series) और यूट्यूब सनसनी (YouTube) स्वीडिश चैनल पीयूडीपाई (PewDiePie) के बीच जारी वर्चस्व की लंबी लड़ाई आखिरकार बुधवार (29 मई) को समाप्त हो गई है, क्योंकि भारतीय संगीत की दिग्गज लोकप्रिय कंपनी वीडियो-शेयरिंग प्लेटफॉर्म यानी यूट्यूब पर 100 मिलियन (10 करोड़) ग्राहक हासिल करने वाला पहला चैनल बन गया है।

टी-सीरीज़ के पास अब 100 मिलियन से अधिक ग्राहक हैं और इसके साथ ही PewDiePie को लगभग चार मिलियन पीछे छोड़ दिया है। खबर लिखे जाने तक यूट्यूब सनसनी पीयूडीपाई के कुल सब्सक्राइबर 96,180,805 था। टी-सीरीज ने इस मुकाम को हासिल करने से ठीक पहले, हर सेकंड करीब 10 से अधिक ग्राहक जोड़े। इसके विपरीत, Pewdiepie एक ग्राहक जोड़ रहा था।

बता दें कि Pewdiepie कंपनी और भारतीय फिल्म प्रोडक्शन हाउस टी-सीरीज को लेकर कुछ दिनों से लगातार चर्चा हो रही थी कि दोनों में से कौन नंबर वन यू ट्यूब चैनल है? हालांकि, लोगों का विश्वास टी सीरीज पर ज्यादा था और यह सच भी हो गया। अब टी-सीरिज दुनिया का नंबर वन यूट्यूब चैनल बन गया है। टी-सीरीज ने यह कामयाबी PewDiePie को ओवरटेक करने के बाद हासिल की है।

पिछले कुछ समय से यूट्यूब की दुनिया में एक युद्ध छिड़ा हुआ था। हालांकि, दिन भर यूट्यूब देखने वाले बहुत से लोगों को इसके बारे में पता नहीं था। हालांकि, अब वो युद्ध समाप्त हो गया है। T-series और PewDiePie की ये लड़ाई उस वक्त काफी आगे बढ़ चुकी थी, जब PewDiePie ने 28 अप्रैल को एक वीडियो पोस्ट किया जिसमें उसके मालिक यानी यूट्यूबर फेलिक्स जेलबर्ग ने ऐलान किया कि ‘सब्सक्राइब टू प्यूडीपाई’ मूमेंट खत्म करने का वक्त आ गया है।

गौरतलब है कि टी सीरीज भारत की सबसे बड़ी म्यूजिक कंपनी है। गुलशन कुमार ने इसे शुरू किया था और बहुत कम समय में बॉलीवुड संगीत की दुनिया पर इसका कब्जा हो गया। यूट्यूब चैनल इसी कंपनी का है। इसके मालिक फिलहाल भूषण कुमार हैं। इस यूट्यूब चैनल के 100 मिलियन सब्सक्राइबर्स हैं।

वहीं, प्यूडीपाई स्वीडिश नागरिक फेलिक्स जेलबर्ग का है। मूलत: रोस्ट यानी किसी की भी बेइज्जती वाले वीडियो बनाकर डालने का काम इस पर होता है। टी-सीरीज को हराकर उससे पहले 100 मिलियन सब्सक्राइबर जोड़ने के लिए रोस्ट म्यूजिक वीडियो भी इस पर पोस्ट किया गया था, लेकिन उसे हार भारतीय कंपनी से हार का सामना करना पड़ा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here