स्वाति मालीवाल ने की हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर और BJP सांसद विजय गोयल के खिलाफ कश्मीरी लड़कियों पर आपत्तिजनक टिप्पणी के लिए FIR दर्ज करने की मांग

0

दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्ल्यू) की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने कश्मीरी लड़कियों पर आपत्तिजनक टिप्पणी के लिए हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और भाजपा के राज्यसभा सांसद विजय गोयल के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने की मांग की है।

स्वाति मालीवाल ने ट्वीट कर बताया कि DCW ने विजय गोयल और खट्टर के ख़िलाफ़ FIR दर्ज करने के लिए दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी किया है। स्वाति ने शनिवार को अपने ट्वीट में लिखा, “DCW ने दिल्ली पुलिस को नोटिस किया विजय गोयल & खट्टर के ख़िलाफ़ FIR दर्ज करने के लिये। उनके महिला विरोधी कार्य & बोल से न सिर्फ़ कश्मीरी महिलाओं की भावना आहत हुई है बल्कि देश की। पूरा देश आज 370 मुद्दे पे PM के साथ है। ऐसे में हिंसा भड़काने वाले नेताओं पे FIR ज़रूर होनी चाहिए!”

मनोहर लाल खट्टर के कश्मीर की लड़कियों को लेकर दिए गए विवादित बयान की निंदा करते हुए स्वाति मालीवाल ने कहा कि उनको अपने बयान पर शर्म आनी चाहिए। मुख्यमंत्री सड़क छाप रोमियो की भाषा बोल रहे हैं। बता दें कि, सीएम खट्टर ने अपने बयान में कहा था कि आर्टिकल 370 निरस्त होने से कश्मीर से लड़कियों को शादी के लिए लाया सकता है।

सीएम खट्टर के बयान पर स्वाति मालीवाल ने ट्वीट कर लिखा, “शर्म आनी चाहिए मनोहर लाल खट्टर को इस वाहयात बयान पे! सड़क छाप रोमीओ की भाषा मुख्यमंत्री बोल रहा है! महिला इनके लिए वस्तु है! पीएम कश्मीर के लोगों को विश्वास दिलाने में लगे हैं की पूरा देश उनके साथ है, तब ये नालायक़ मुख्यमंत्री अभद्र बातें कर हिंसा भड़का रहा है! इनपे हर हाल में FIR होनी चाहिए!”

वहीं, विजय गोयल ने अपने सरकारी आवास पर एक होर्डिंग की तस्वीर अपने ट्वीटर अकाउंट पर शेयर किया किया। होर्डिंग में, एक कश्मीरी को मुस्कुराते हुए दिखाया गया है। इस पोस्ट में लिखा, “धारा 370 का जाना तेरा मुस्कराना।” विजय गोयल के इस पोस्टर पर भी स्वाति मालीवाल ने कड़ी निंदा की है।

स्वाति मालीवाल ने ट्वीट कर लिखा, “छी! कितनी घटिया सोच है। हिम्मत है तो अपनी बेटी की तस्वीर घर के बोर्ड पे लगाओ। एक तरफ़ हमारे PM कश्मीर का दिल जीतने की कोशिश कर रहे है, दूसरी तरफ़ उनके मंत्री कश्मीरी लड़कियों के प्रति अपनी गंदी सोच उजागर कर रहे हैं! कार्यकर्ताओं की क्या ग़लती जब नेता ही ऐसी ओछि सोच रखते हैं।”

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने संविधान के अनुच्छेद 370 के खत्म होने के बाद यह बयान देकर विवाद खड़ा कर दिया है कि कश्मीरी लड़कियों को शादी करके यहां लाने का रास्ता साफ हो गया है। उन्होंने फतेहाबाद कस्बे में शुक्रवार को महाऋषि भागीरथ जयंती समारोह के राज्यस्तरीय कार्यक्रम में यह बयान दिया।

मनोहर लाल खट्टर ने कहा, “पहले बहुएं बिहार से लाई जाती थीं, लेकिन अब हम कश्मीर से बहुएं लाएंगे।” उन्होंने कहा, “हमारे मंत्री ओ.पी. धनकर कहा करते थे कि उन्हें बहुएं बिहार से लानी पड़ेंगी। आज-कल लोगों ने यह कहना शुरू कर दिया है कि कश्मीर का रास्ता साफ हो गया है और अब हम कश्मीर से लड़कियां लाएंगे।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here