मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड की पीड़िता के साथ सामूहिक बलात्कार, बॉलीवुड अभिनेत्री स्वरा भास्कर का फूटा गुस्सा

0

बिहार के मुजफ्फरपुर शेल्टर होम से छुड़ाई गई एक पीड़िता से कथित तौर पर चलती कार में सामूहिक बलात्कार किया गया। पीड़िता के साथ हुई इस घटना ने राज्य में एक बार फिर कानून व्यवस्था पर सवाल खड़ा कर दिया है। इस मुद्दे पर बॉलीवुड अभिनेत्री स्वरा भास्कर ने ट्वीट कर अपने गुस्से का इजहार किया है। स्वरा ने इसे शर्मनाक बताते हुए नेशनल मीडिया की चुप्पी औरप कानून व्यवस्था पर सवाल उठाए हैं।

स्वरा भास्कर
फाइल फोटो

बिहार के पश्चिम चंपारण जिला के नगर थाना में मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड की एक पीड़िता ने अपने साथ सामूहिक बलात्कार का मामला दर्ज कराया है। पश्चिम चंपारण जिला मुख्यालय बेतिया के नगर थाना अध्यक्ष शशिभूषण ठाकुर ने रविवार को बताया कि पीड़िता को इलाज के लिए शनिवार देर शाम गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उन्होंने बताया कि महिला थानाध्यक्ष पूनम कुमारी ने अस्पताल पहुंचकर मामले की जांच शुरू कर दी है।

इस घटना पर अपना गुस्सा जाहिर करते हुए बॉलीवुड अभिनेत्री स्वरा भास्कर ने रविवार को ट्वीट कर कहा, “यह घटना हमारे भारत देश में महिला सुरक्षा की तरफ नाकामी और कानून व्यवस्था की शर्मनाक छवि को दर्शाती है। राष्ट्रीय मीडिया इस मामले की तरफ नहीं ध्यान नहीं देगा। कथित तौर पर, मुजफ्फरपुर गैंगरेप पीड़िता के साथ एक बार दोबारा बलात्कार हो गया है।”

समाचार एजेंसी भाषा की रिपोर्ट के मुताबिक, पीड़िता ने अपनी शिकायत में कहा है कि शुक्रवार की रात वह अपने मुहल्ले में ही थी। इसी दौरान कार सवार चार लोगों ने उसे गाड़ी के भीतर खींच लिया। शिकायत के अनुसार, आरोपियों ने चलती गाड़ी में उसके साथ बलात्कार किया और फिर उसे वापस मोहल्ले के पास छोड़ कर फरार हो गए। उसमें कहा है कि आरोपियों ने नकाब पहना हुआ था, लेकिन विरोध के दौरान पीड़िता उनका नकाब हटाने में कामयाब रही। सभी युवक एक ही परिवार के हैं।

नगर थानाध्यक्ष ने बताया कि शनिवार को पीड़िता ने नगर थाने में घटना की शिकायत दर्ज करायी। जिसके बाद उसे महिला थाने के संरक्षण में अस्पताल में भर्ती कराया गया। उन्होंने कहा कि मेडिकल रिपोर्ट आने के बाद ही दुष्कर्म की पुष्टि हो पाएगी। पिछले साल मुजफ्फरपुर शहर स्थित एक बालिका गृह में 34 लड़कियों के साथ यौन शोषण का मामला प्रकाश में आने पर गत वर्ष 26 जुलाई को राज्य सरकार ने इसकी जांच सीबीआई को सौंप दी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here