“बिहार के गौरव सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या नहीं कर सकते, उनकी मौत की CBI जांच हो”

0

बॉलीवुड के मशहूर अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत ने मुंबई के बांद्रा स्थित अपने घर में रविवार (14 मई) की सुबह फांसी लगाकर जान दे दी। उनकी मौत की खबर सुनकर हर कोई हैरान है, किसी को अंदाजा नहीं था कि फिल्म जगत का एक ऐसा कलाकार जिसने इतने थोड़े से वक्त में इतना मुकाम हासिल किया है वो कुछ ऐसा कदम उठा सकता है।

सुशांत सिंह राजपूत के सुसाइड की खबर से बिहार में रह रहे उनके परिजनों का भी रो-रोकर बुरा हाल है। सुशांत सिंह राजपूत के मृत्यु के बाद बिहार के पटना स्थित उनके घर पर लोगों के आने जाने का सिलसिला लगातार जारी है। अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के निधन पर रविवार को बिहार में विभिन्न दलों ने नेताओं ने शोक प्रकट किया। खुद बिहार के सीएम नीतीश कुमार, झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन, बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव सहित कई हस्तियों ने सुशांत सिंह राजपूत के निधन पर शोक व्यक्त किया।

इस बीच, जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व सांसद पप्पू यादव ने भी सुशांत के घर पर जाकर उनके परिवार से मुलाकात की है। इस मुलाकात के बाद पप्पू यादव ने ट्वीट करते हुए लिखा कि सुशांत सिंह राजपूत के पिता एक्टर की मृत्यु पर सीबीआई जांच चाहते हैं।

पप्पू यादव ने अपने ट्वीट में लिखा, “बिहार के गौरव सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या नहीं कर सकते! उनकी मौत की सीबीआई जांच हो। उनके पिताजी से पटना स्थित आवास पर मिला, वह सीबीआई जांच चाहते हैं, वह कहते हैं कि मौत के दो घंटे पहले उनकी बात हुई थी। खुदकुशी जैसी कोई बात ही नहीं थी! उनके परिजनों से मिलकर भावविह्वल हो गया।”

सुशांत सिंह राजपूत का जन्म 21 जनवरी 1986 को बिहार की राजधानी पटना में हुआ। सुशांत ने अपनी प्रारभिक शिक्षा सेंट कैरेंस हाई स्कूल, पटना से शुरू की। सुशांत ने अपनी आगे की पढ़ाई दिल्ली के कुलाची हंसराज मॉडल स्कूल से हुई है। उन्होंने दिल्ली कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग से मैकेनिकल इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी की। सुशांत फिल्मी दुनिया में अपना करियर बनाना चाहते थे और अपने सपनों को उड़ाने देने के लिए उन्होंने मायानगरी मुंबई का रूख किया। सुशांत ने अपने करियर की शुरूआत बतौर बैकअप डांसर की। उन्होंने फिल्मफेयर अवार्डस शो में भी कई बार डांस किया।

इसी शो के दौरान सबसे पहले बालाजी टेलीफिल्मस की कास्टिंग टीम ने उन्हें नोटिस किया जिसके बाद उनके करियर की शुरूआत ‘किस देश में है मेरा दिल’ नामक सीरियल से हुई जिसमें उन्होंने प्रीत जुनेजा का किरदार निभाया था। जीटीवी. का शो ‘पवित्र रिश्ता’ सुशांत के करियर के लिए मील का पत्थर साबित हुआ। इसके बाद वे डांस रियलिटी शो ‘जरा नच के दिखा 2 और झलक दिखला जा 4 में भी दिखाई दिए। कम समय में ही टेलीविजन के बड़े सितारे बन चुके सुशांत ने फिल्मों का रूख कर लिया।

सुशांत सिंह राजपूत को नीरज पांडे की 2016 में रिलीज हुई ‘एमएस धोनी: द अनटोल्ड स्टोरी’ में अपनी मुख्य भूमिका के लिए विशेष रूप जाना जाता है, जो कि भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की बायोपिक है। उन्होंने अभिषेक कपूर की 2013 में रिलीज हुई ‘काई पो चे’ से अपने फिल्मी करियर की शुरूआत की और इसके बाद वह ‘डिटेक्टिव ब्योमकेश बख्शी’, ‘राब्ता’, ‘केदारनाथ’ और ‘शुद्ध देसी रोमांस’ जैसी फिल्मों में नजर आए। संयोग से सुशांत की प्रबंधक (मैनेजर) ने भी कुछ दिनों पहले ही आत्महत्या कर ली थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here