बुलेट ट्रेन को लेकर गलत प्रचार किया जा रहा है: सुरेश प्रभु

0

बुलेट ट्रेन परियोजना को रेलवे के भविष्योन्मुखी विकास के लिए महत्वपूर्ण बताते हुए सरकार ने आज कहा कि इस विषय पर जानबूझकर गलत प्रचार किया जा रहा है और सार्वजनिक धन का उपयोग आम लोगों की सुविधा एवं रेल सुधार पर ही होगा।
dc-Cover-t7vcjpvh9lqo83pv70b6ih87t2-20160310110358.Medi

समाचार एजेंसी भाषा के अनुसार लोकसभा में कुछ सदस्यों के पूरक प्रश्नों के उत्तर में रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने कहा, ‘‘ जानबूझकर बुलेट ट्रेन के बारे में गलत प्रचार किया जा रहा है। बुलेट ट्रेन को जापान के सहयोग से पूरा किया जा रहा है और हाई स्पीड ट्रेन तथा सामान्य गति की आम आदमी की रेलगाड़ियों पर इसका कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा। ’’ उन्होंने सवाल किया कि पहले बुलेट ट्रेन परियोजना नहीं थी तब क्यों नहीं तेजी से काम हुआ।

Also Read:  आगरा में रोगियों के लिए ठेले और कचरे के डिब्बों के लिए स्ट्रेचर

प्रभु ने कहा कि बुलेट ट्रेन आने के साथ देश में अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी आएगी, जो देश के विकास में बहुत बड़ा योगदान देगी।

रेल मंत्री ने कहा कि जापान ने 0 .। प्रतिशत की दर से रिण मुहैया कराया है तथा इससे कम ब्याज दर वाला रिण और कहीं नहीं मिल सकता है।

इस परियोजना के बारे में आशंकाओं को भी गलत बताते हुए उन्होंने कहा, ‘‘इसके लिए मैं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को धन्यवाद देता हूं जिनकी निजी पहल के कारण यह संभव हो सका जबकि काफी पहले से प्रयास चल रहे थे।

Also Read:  बीजेपी विधायक स्वामी प्रसाद मौर्या ने कहा- 'ईवीएम नहीं मायावती की सोच ही खराब है'

प्रभु ने कहा कि बुलेट ट्रेन आयेगी तब जापान से प्रौद्योगिकी भी आयेगी और सार्वजनिक धन का उपयोग जनता के लिए सुविधाओं के विकास एवं रेल सुधार पर ही खर्च किया जायेगा।

उन्होंने कहा कि हमें देश में रेल की सम्पूर्ण स्थिति को ठीक करने के लिए दोनों को साथ लेकर चलना होगा क्योंकि जापान से प्रौद्योगिकी आयेगी तो वह सामान्य रेल के वर्तमान नेटवर्क में सुधार के संबंध में भी होगी।

Also Read:  हिंसक प्रदर्शन के बाद नेपाल के नए संविधान में होगा संशोधन

प्रभु ने सदन को भरोसा दिलाया कि बुलेट ट्रेन और अन्य हाई स्पीड ट्रेनों के चलने से आम आदमी की साधारण ट्रेनों की गति प्रभावित नहीं होगी। उन्होंने कहा कि बुलेट ट्रेन के साथ आने वाली नयी प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल से अन्य ट्रेनों की गति भी बढ़ेगी।

उन्होंने कहा कि गति पकड़ने में जितनी भी बाधाएं हैं उन्हें दूर किया जाएगा और सभी श्रेणी की ट्रेनों की गति को बढ़ाया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here