सुरेश कलमाड़ी बने ओलंपिक संघ के आजीवन अध्यक्ष, खेल मंत्रालय हुआ नाराज

0

सुरेश कलमाड़ी को भारतीय ओलिंपिक संघ (आईओए) का आजीवन संरक्षक बनाया गया है। वहीं, अभय सिंह चौटाला को संघ का अध्‍यक्ष नामित किया गया। चेन्‍नई में भारतीय ओलिंपिक संघ की मंगलवार को हुई वार्षिक आम बैठक में आम राय से यह फैसला लिया गया।

सुरेश कलमाड़ी

कलमाड़ी 1996 से 2011 तक आईओए अध्यक्ष रहे और उन्हें 2010 दिल्ली राष्ट्रमंडल खेलों में घोटाले में संलिप्तता के कारण दस महीने जेल की सजा काटनी पड़ी थी। बाद में उन्हें जमानत पर रिहा कर दिया गया था। एएनआई ने आईओए सूत्रों के हवाले से लिखा है कि ऐसा परंपरा के तहत किया गया है।

मीडिया रिपोट्स के अनुसार, आईओए ने एक बयान में कहा है कि कलमाड़ी और चौटाला की नियुक्ति का फैसला सर्वसम्‍मति से लिया गया है। सूत्रों के अनुसार, संयुक्‍त सचिव राकेश गुप्‍ता ने उनकी नियुक्ति का प्रस्‍ताव पेश किया और बैठक में 150 लोगों की सहमति से यह फैसला लिया गया।

कलमाड़ी पर आरोप है कि उन्होंने कॉमनवेल्थ गेम्स के दौरान एक स्विस फर्म को टाइमिंग इक्युमेंट के लिए 141 करोड़ के ठेके दिए थे। इस मामले में उनके साथ ललित भनोट और वीके. वर्मा के नाम भी सामने आए थे। इन दोनों को भी गिरफ्तार किया गया था।

चौटाला को नवंबर में हरियाणा ओलिंपिक एसोसिएशन का चीफ बनाया गया था। उनके खिलाफ आय से ज्यादा संपत्ति का केस चल रहा है। चौटाला को मुक्केबाजी की पूर्ववर्ती संस्था भारतीय एमेच्योर मुक्केबाजी महासंघ का भी अध्यक्ष चुना गया था जिसकी विश्व संस्था एआईबीए ने 2013 में मान्यता रद्द कर दी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here