दिवंगत जस्टिस लोया की रहस्यमय मौत पर सुप्रीम कोर्ट कल करेगा सुनवाई

0

गुजरात के बहुचर्चित सोहराबुद्दीन शेख और तुलसीराम प्रजापति फर्जी एनकाउंटर मामले की सुनवाई कर रहे केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की विशेष अदालत के दिवंगत न्यायाधीश बृजगोपाल लोया की रहस्यमय मौत का मामला अब सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है। इस मामले को लेकर दाखिल एक पीआईएल पर शीर्ष अदालत कल यानी शुक्रवार (12 जनवरी) को  सुनवाई करेगा। न्यूज एजेंसी ANI की रिपोर्ट के मुताबिक सुप्रीम कोर्ट की वकील अनीता शेनॉय ने शीर्ष अदालत में एक याचिका दाखिल कर जज लोया की मौत की स्वतंत्र जांच की मांग की है। जिस पर सुप्रीम कोर्ट इस मामले की सुनवाई को तैयार हो गया है। बता दें कि इस मामले में बॉम्बे हाईकोर्ट में भी एक याचिका दाखिल की गई है।

सुप्रीम कोर्ट में दायर इस याचिका में मांग की गई है कि मुख्य न्यायाधीश जस्टिस दीपक मिश्रा की अध्यक्षता में तीन न्यायाधीशों वाली पीठ तत्काल सुनवाई करे। अब शुक्रवार (12 जनवरी) को इस मामले की सुनवाई होगी। गौरतलब है कि जज लोया की मौत पर लगातार सवाल उठाए जा रहे हैं।

आपको बता दें कि पिछले दिनों जस्टिस वृजगोपाल लोया की बहन अनुराधा बियानी ने कारवां मैगजीन की रिपोर्टर को बताया था कि उनके भाई और उस समय के CBI जज लोया को मुंबई हाई कोर्ट के पूर्व मुख्य न्यायाधीश मोहित शाह ने 100 करोड़ रुपये की रिश्वत की पेशकश की थी। इस घूस की पेशकश सभी आरोपियों को क्लीन चीट देने के लिए की गई थी। अनुराधा ने पत्रिका को बताया था कि यह ऑफर उनके भाई की मौत के कुछ हफ्ते पहले ही दिया गया था।

बहन के अलावा मृतक सीबीआई जज लोया के पिता ने भी मैगजीन से बातचीत में दावा किया था कि इस मामले में उनके बेटे को आरोपियों के अनुकूल फैसला सुनाने के लिए पैसे के साथ-साथ मुंबई में एक घर देने की भी पेशकश की गई थी। बता दें कि गुजरात के चर्चित सोहराबुद्दीन शेख और तुलसीराम प्रजापति के फर्जी मुठभेड़ मामले की अध्यक्षता करने वाले न्यायाधीश लोया की 1 नवंबर 2014 में नागपुर में रहस्यमय परिस्थितियों में मौत हो गई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here