अयोध्या पर फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की सभी पुनर्विचार याचिकाएं

0

सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को अयोध्या राम जन्मभूमि को लेकर आए फैसले के खिलाफ दायर सभी 18 पुनर्विचार याचिकाओं को खारिज कर दिया है। 5 जजों की पीठ ने यह फैसला सुनाया है। इस मामले में 9 याचिकाएं पक्षकार की ओर से और 9 अन्य याचिकाकर्ताओं की ओर से लगाई गई थी।

अयोध्या

सुप्रीम कोर्ट की पांच सदस्यीय पीठ ने गुरुवार को सभी पुनर्विचार याचिकाओं को खारिज कर दिया। इस पीठ की अध्यक्षता सीजेआई एस ए बोबडे कर रहे थे जबकि पीठ के सदस्यों में जस्टिस डी वाई चंद्रचूड़, अशोक भूषण, एस अब्दुल नजीर और संजीव खन्ना शामिल हैं। बता दें कि, अयोध्या के ऐतिहासिक फैसले वाली पीठ में जस्टिस बोबड़े, डी वाई चंद्रचूड़ और अब्दुल नजीर भी शामिल रहे हैं।

गौरतलब है कि, सुप्रीम कोर्ट ने पिछले महीने ही अयोध्या पर ऐतिहासिक फैसला सुनाते हुए राम मंदिर निर्माण का रास्ता साफ कर दिया था। सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या जमीन विवाद मामले में नौ नवंबर को अपना फैसला सुनाया था। तत्कालीन सीजेआई रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पांच सदस्यीय संविधान पीठ ने सर्वसम्मत फैसले में 2.77 एकड़ की विवादित भूमि की डिक्री ‘राम लला विराजमान’ के पक्ष में की थी।

सुप्रीम कोर्ट द्वारा अयोध्या विवाद पर दिए फैसले से मुस्लिम पक्ष असंतुष्ट था जिसके बाद उन्होंने पुनर्विचार याचिका दायर की थी। वहीं, निर्मोही अखाड़ा ने भी सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर रिव्यू पिटिशन दायर किया था। हालांकि, यह याचिका राम जन्मभूमि पर नहीं किसी और तर्क पर दायर की गई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here