बकरीद पर कुर्बानी के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर

0
>

बकरीद के मौके पर कुर्बानी पर सवाल उठाते हुए उत्तरप्रदेश के सात लोगों ने सुप्रीम कोर्ट में जनहित याचिका दायर की है। इसमें पशु क्रूरता रोकथाम कानून की वैधता को चुनौती दी गई है। कोर्ट से आग्रह किया गया है कि वह त्योहार के दौरान ऐसा आदेश दे ताकि कुर्बानी ना हो

Also Read:  वीडियो: टीवी कार्यक्रम में बहस बदली भाजपा नेता के लिए फजीहत में, 'आज तक' की पत्रकार को बताया 'आप' और कांग्रेस का समर्थक

कुर्बानी की दावत के रूप में बकरीद का त्योहार अगले सप्ताह के आरंभ में मनाया जाने वाला है। वकील विष्णु शंकर जैन के मार्फत दायर पीआईएल में पशु क्रूरता रोकथाम कानून 1960 की धारा 28 की संवैधानिकता को चुनौती दी गई है। इस धारा में धार्मिक मान्यताओं के चलते बलि या कुर्बानी की छूट दी गई है।

Also Read:  वरुण गाँधी 3600 किसानों का कर्ज़ा माफ़ और सौ पक्के बना कर रच दिया एक नया इतिहास

जैन ने कहा है कि इस कानून में कोई छूट नहीं होना चाहिए, क्योंकि यह प्रावधान संविधान के अनुच्छेद 14, 21 व 25 के खिलाफ है। याचिकाकर्ताओं ने गृह, कानून व न्याय, वन व पर्यावरण मंत्रालयों के साथ भारतीय पशु कल्याण बोर्ड को भी पार्टी बनाया है।

Also Read:  पहले हफ्ते में 100  करोड़ की कमाई के साथ दंगल ने ध्वस्त किए सारे रिकॉर्ड

कुर्बानी विवाद से जुड़ी ऐसी ही एक याचिका पर सुनवाई करते हुए पिछले साल सितंबर में सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि सदियों पुरानी परंपरा को कैसे खत्म किया जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here