22 साल पुराने मामले में सनी देओल और करिश्मा कपूर को मिली राहत, जानें क्या है पूरा मामला

0

जयपुर की एक अदालत ने बॉलीवुड अभिनेता व गुरदासपुर से भाजपा सांसद सनी देओल और अभिनेत्री करिश्मा कपूर को बड़ी राहत देते हुए एक फिल्म की शूटिंग के दौरान 22 वर्ष पुराने रेलवे के चेन पुलिंग (ट्रेन की चेन खींचने) मामले में दोनों को बरी कर दिया।

सनी देओल

रेलवे के चेन पुलिंग (ट्रेन की चेन खींचने) मामला यह वर्ष 1997 में अजमेर रेलवे डिवीजन में एक फिल्म ‘बजरंग’ की शूटिंग के दौरान हुई थी। सनी देओल और करिश्मा कपूर के खिलाफ वर्ष 1997 में एक फिल्म की शूटिंग के दौरान रेल की चेन खींचने के आरोप में मामला दर्ज किया गया था। रेलवे अदालत ने 17 सितंबर को रेलवे अधिनियम की धारा 141, 145, 146 और 147 के तहत दोनों को दोषी ठहराया था।

समाचार एजेंसी आईएएनएस की रिपोर्ट के मुताबिक, न्यायाधीश पवन कुमार ने शुक्रवार को कहा कि रेलवे अदालत ने दोनों लोगों (सनी देओल और करिश्मा कपूर) को उन धाराओं के तहत दोषी ठहराया था, जिसे 2010 में सत्र न्यायालय द्वारा निरस्त कर दिया गया था और दोनों के खिलाफ मामले में पर्याप्त सबूतों का अभाव है।

नरेना रेलवे स्टेशन पर अजमेर रेलवे डिवीजन में चेन पुलिंग की घटना सामने आई थी, जिसके कारण 2413-ए एक्सप्रेस 25 मिनट की देरी से पहुंची थी। सनी देओल और करिश्मा कपूर ने सत्र न्यायालय में मामले के खिलाफ याचिका दायर की थी, जिसमें उनकी ओर से दलीलें वकील ए.के.जैन ने दी थी। नरेना के तत्कालीन सहायक स्टेशन मास्टर सीताराम मालाकर ने इस बारे में रेलवे पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here