सुनंदा पुष्कर मौत मामला: कांग्रेस ने अर्नब गोस्वामी को घसीटा, टाइम्स नाउ ने चलाया ब्रेकिंग

0

कांग्रेस नेता शशि थरूर की पत्नी सुनंदा पुष्कर की मौत के मामले में दिल्ली पुलिस ने सोमवार (14 मई) को पटियाला हाउस कोर्ट में चार्जशीट दाखिल कर दी है। चार्जशीट को धारा 306 और 498 ए के तहत दायर किया गया है। चार्जशीट में सुनंदा पुष्कर के पति और पूर्व केंद्रीय मंत्री शशि थरूर को आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोपी बनाया गया है। इस मामले में अगली सुनवाई 24 मई को होगी।

शशि थरूर ने इस चार्जशीट को खारिज करते हुए इसका डटकर मुकाबला करने की बात कही है, वहीं कांग्रेस ने भी अपने नेता के बचाव में खुलकर उतर गई है। कांग्रेस ने कहा है कि पार्टी इस मामले में शशि थरूर के साथ खड़ी है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने दिल्ली पुलिस की चार्जशीट को राजनीति से प्रेरित बताया है। साथ ही उन्होंने अंग्रेजी समाचार चैनल ‘रिपब्लिक टीवी’ के एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी को भी घसीटते हुए हमला बोला है।

मीडिया से बात करते हुए सुरजेवाला ने कहा कि थरूर के खिलाफ आरोप कहां से आ रहा है? यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के झूठ के कारखाने से आ रहा है, जो कांग्रेस के नेताओं को धमकी दे रहे हैं कि वह उनसे बदला लेंगे। बता दें कि पूर्व प्रधानमंत्री डॉ.मनमोहन सिंह ने सोमवार (14 मई) को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को चिट्ठी लिखकर पीएम नरेंद्र मोदी की शिकायत की है।

राष्ट्रपति को लिखे इस चिट्ठी में खासतौर पर प्रधानमंत्री मोदी के हुबली में दिए गए भाषण का जिक्र किया गया है, जिसमें कांग्रेस नेताओं का मानना है कि पीएम मोदी ने उन्हें धमकाने की कोशिश की। दरअसल कर्नाटक विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने 6 मई को हुबली में भाषण के दौरान कहा था, “जिस पार्टी के मुखिया जमानत पर चल रहे हैं, वे हमसे सवाल पूछ रहे हैं। कांग्रेस के नेता कान खोलकर सुन लीजिए, अगर सीमाओं को पार करोगे… तो ये मोदी है… लेने के देने पड़ जाएंगे।”।

कांग्रेस ने अर्नब गोस्वामी को लपेटा

कांग्रेस ने सुनंदा पुष्कर मौत मामले में उनके पति और पूर्व केंद्रीय मंत्री शशि थरूर को आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोपी बनाए जाने पर अर्नब गोस्वामी को भी लपेटा है। सुरजेवाला ने कहा कि पीएम मोदी के आदेश पर दिल्ली पुलिस ने थरूर को ‘झूठे आरोपों’ से गुमराह करने का प्रयास किया था। जिसके बाद रिपब्लिक टीवी के सह-संस्थापक अर्नब गोस्वामी इस मामले को लेकर आगे बढ़े, जिनके खिलाफ हाल ही में आत्महत्या मामले में एफआईआर दर्ज किया गया है।

बता दें कि महाराष्ट्र पुलिस ने ‘रिपब्लिक टीवी’ के एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी समेत तीन लोगों के खिलाफ आत्महत्या मामले में एफआईआर दर्ज की है। अर्नब सहित तीन लोगों पर एक इंटीरियर डिजाइनर को खुदकुशी के लिए उकसाने का आरोप है। बीते शनिवार (5 मई) को इंटीरियर डिजाइनर ने अपने आवास पर आत्महत्या कर ली थी। इंटीरियर डिजाइनर की पत्नी ने अर्नब गोस्वामी के चैनल रिपब्लिक टीवी पर बकाया राशि नहीं देने का आरोप लगाया है। हालांकि चैनल ने आरोपों को खारिज किया है।

कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि थरूर के खिलाफ मीडिया ट्रायल किया गया है। कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि आश्चर्य की बात यह है कि मीडिया ट्रायल भी एक चुनिंदा मीडिया समूह (रिपब्लिक टीवी) द्वारा आयोजित किया जा रहा है, जिस पर खुद आत्महत्या मामले में एफआईआर दर्ज की गई है। लेकिन वे खुद के खिलाफ उन आरोपों को भूल जाता है।

टाइम्स नाउ ने चलाया ब्रेकिंग

सबसे बड़ी बात यह है कि गोस्वामी के खिलाफ कांग्रेस द्वारा लगाए गए आरोपों को फौरन टाइम्स नाउ ने एक बड़ी ब्रेकिंग बनाकर चलाया है। बता दें कि इससे पहले भी टाइम्स नाउ ने अपने पूर्व संपादक अर्नब गोस्वामी पर दर्ज FIR की खबर को चलाया था। गौरतलब है कि रिपब्लिक टीवी के मैनेजिंग डायरेक्टर अर्नब गोस्वामी पहले टाइम्स नाउ के एडिटर इन चीफ थे। टाइम्स नाउ से इस्तीफा देने के बाद 6 मई 2017 को अपने नए इंग्लिश चैनल ‘रिपब्लिक टीवी’ को लॉन्च किया था।

आपको बता दें कि सुनंदा पुष्कर की मौत के मामले में दिल्‍ली पुलिस ने आईपीसी की धारा 306 यानि आत्महत्या के लिए उकसाना और 498 ए वैवाहिक जीवन मे प्रताड़ना के तहत आरोप-पत्र दाखिल किया है। दिल्‍ली पुलिस ने इस मामले में पहले हत्या का केस भी दर्ज किया था। पुलिस ने शशि थरूर को आरोपी माना है। दिल्‍ली पुलिस ने 3000 पन्‍नों का आरोप पत्र दाखिल किया है। चार्जशीट के मुताबिक, थरूर संदेह के दायरे में हैं लेकिन उनके खिलाफ पर्याप्त सबूत नहीं हैं।

समाचार एजेंसी भाषा के मुताबिक सुनंदा पुष्कर की रहस्यमय मौत के मामले में दिल्ली पुलिस ने उनके पति, पूर्व केंद्रीय मंत्री तथा कांग्रेस नेता शशि थरूर को पत्नी को प्रताड़ित करने तथा खुदकुशी के लिए उकसाने का आरोपी बनाया है। पुलिस ने सोमवार को मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट धमेंद्र सिंह के समक्ष आरोप पत्र दायर किया है। इसमें भारतीय दंड संहिता की धारा 498 ए (पति या उसके रिश्तेदारों द्वारा महिला को प्रताड़ित करना) और 306 के (खुदकुशी के लिए उकसाना) के तहत आरोप शामिल हैं।

बता दें कि सुनंदा 17 दिसंबर, 2014 को दक्षिणी दिल्ली के एक पांच सितारा होटल में रहस्यमयी परिस्थितियों में मृत पायी गयी थी। शशि थरूर ने चार्जशीट में लगाये गये आरोपों को बेतुका कहा है। उन्होंने कहा कि उनकी मंशा इसका डटकर मुकाबला करने की है। थरूर ने लिखा है कि जो कोई भी सुनंदा को जानता था उसे यह बात पता है कि अकेले मेरे उकसाने से वह खुदकुशी नहीं कर सकती। शशि थरूर ने कहा कि साढ़े 4 साल बाद जांच के बाद दिल्ली पुलिस का ऐसे नतीजों पर पहुंचना उसकी मंशा पर सवाल खड़े करता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here