मध्यप्रदेश: सामूहिक बलात्कार की शिकार युवती ने की आत्महत्या, शव के पास मिला सुसाइड नोट

0

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) शासित राज्य मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में कोचिंग क्लास से लौटते वक्त 19 वर्षीय छात्रा के साथ गैंगरेप का सनसनीखेज मामला अभी शांत भी नहीं हुआ है कि अब राज्य से एक ऐसी ख़बर सामने आई है जो बेहद ही शर्मनाक है।

मध्यप्रदेश
प्रतिकात्मक फोटो

मध्यप्रदेश के बैतूल जिला मुख्यालय से करीब 40 किलोमीटर दूर ग्राम बोदलपठार में शौच के लिए बाहर खुले में गई एक युवती के साथ दो युवकों ने कथित रूप से सामूहिक बलात्कार किया। इससे व्यथित होकर युवती ने अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

न्यूज़ एजेंसी भाषा की ख़बर के मुताबिक, साईंखेड़ा पुलिस थाना प्रभारी के आर सिलाले ने बताया कि, 19 वर्षीय यह युवती परसों रात खुले में शौच करने के लिए गई थी। इसी बीच, दो युवकों ने उसके साथ कथित रूप से सामूहिक बलात्कार किया।

इससे व्यथित पीड़िता ने कथित रूप से फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली, उसके कमरे से सोमवार (1 जनवरी) की सुबह उसका शव बरामद हुआ।

उन्होंने कहा कि युवती के शव के पास में एक सुसाइड नोट भी मिला है, जिसमें उसने अपने साथ हुई इस घटना के बारे में लिखने के साथ-साथ बलात्कार करने वाले दोनों आरोपियों के नाम भी लिखे है।

साथ ही आर सिलाले ने बताया कि सुसाइड नोट के आधार पर बलात्कार के आरोप में बलदेव धुर्वे तथा राजेश काकोडिय़ा को गिरफ्तार भी कर लिया गया है।

उन्होंने कहा कि युवती द्वारा बदनामी के डर से आत्महत्या का कदम उठाए जाने की आशंका है। सिलाले ने बताया कि इस संबंध में साईंखेड़ा थाना क्षेत्र में मामला दर्ज कर लिया गया है और विस्तृत से मामले की जांच की जा रही है।

बता दें कि, हाल ही में आए राष्ट्रीय अपराध रिकार्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) की रिपोर्ट के मुताबिक, 2017 में देश में 28,947 महिलाओं के साथ बलात्कार की घटना दर्ज की गई। इसमें मध्यप्रदेश में 4882 महिलाओं के साथ बलात्कार की घटना दर्ज हुई।

रिपोर्ट के मुताबिक, महिलाओं के साथ बलात्कार के मामले में एक बार फिर से देश के सभी राज्यों में मध्यप्रदेश सबसे पहले स्थान पर दर्ज किया गया है। एनसीआरबी की रिपोर्ट के मुताबिक मध्यप्रदेश इस मामले में गत वर्ष भी देश में पहले स्थान पर ही था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here