लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी को लग सकता है एक और झटका!, इस सहयोगी दल ने गठबंधन तोड़ने की दी धमकी

0

आगामी लोकसभा चुनाव से पहले केन्द्र की सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को एक और बड़ा झटका लग सकता है। क्योंकि, अब उत्तर प्रदेश में बीजेपी के सहयोगी दल सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी ने रविवार को कहा कि अगर 24 फरवरी तक सामाजिक न्याय समिति की सिफारिशें लागू नहीं की गई तो वह बीजेपी से अपने रिश्ते तोड़ सकती है।

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के महासचिव अरुण राजभर ने समाचार एजेंसी पीटीआई (भाषा) को बताया कि अगर बीजेपी हमारी ओर से उठाई गई मांगों से सहमत नहीं होती है तो निश्चित तौर पर हम उनसे रिश्ता तोड़ देंगे। अगर सामाजिक न्याय समिति की सिफारिशों को 24 फरवरी तक लागू नहीं किया गया तो हमारा बीजेपी से रास्ता अलग होगा और उसके बाद हम उत्तर प्रदेश की सभी 80 लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ेंगे।

उन्होंने आगे कहा, ‘‘हम आवश्यकता पड़ने पर बीजेपी विरोधी गठबंधन (सपा-बसपा) के साथ भी जा सकते हैं, उनके साथ कई दौर की वार्ता हो चुकी है।’’ राजभर ने कहा कि यह अंतिम चेतावनी है और 24 फरवरी के बाद बीजेपी के साथ कोई समझौता नहीं किया जाएगा। बीजेपी ने वादा किया था सामाजिक न्याय समिति की सिफारिशें लोकसभा चुनाव के छह महीने पहले लागू कर दी जायेंगी लेकिन इस दिशा में कोई प्रगति नहीं हुई।

सामाजिक न्याय समिति का गठन पिछले साल मई में किया गया था। समिति ने पिछड़े वर्ग को तीन वर्ग में यानी पिछड़ा, अति पिछड़ा और सर्वाधिक पिछड़ा में बांटने की वकालत की थी। सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी ने छह फरवरी को कहा था कि अगले आम चुनाव में सपा-बसपा गठबंधन के साथ जाने का विकल्प उसके लिए खुला है।

बता दें कि इससे पहले पिछले साल 10 दिसंबर को राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने केंद्रीय मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। इसके अलावा कुशवाहा ने मंत्री पद के साथ एनडीए से भी इस्तीफा दे दिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here