पाकिस्तानी सेना प्रमुख से गले मिलने पर सिद्धू पर निशाना साधने के चक्कर में खुद ट्रोल हो गए सुधीर चौधरी

0
5

क्रिकेटर से राजनेता बने कांग्रेस नेता और पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान के शपथ समारोह में शामिल होने के बाद उनकी लगातार आलोचना हो रही है। पाकिस्तान के सेना प्रमुख कमर जावेद बाजवा से गले मिलने और पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) के राष्ट्रपति मसूद खान के बगल में बैठने को लेकर विपक्षी पार्टियों के साथ-साथ अपने लोग भी उन्हें कोस रहे हैं।

इस बीच जी न्यूज के संपादक सुधीर चौधरी ने भी एक ट्वीट कर नवजोत सिंह सिद्धू पर निशाना साधा है। हालांकि सिद्धू पर हमला करने के चक्कर में सुधीर चौधरी खुद ट्रोल के शिकार हो गए। दरअसल, सुधीर चौधरी ने पाकिस्तान के सेना प्रमुख कमर जावेद बाजवा से गले मिलने और पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) के राष्ट्रपति मसूद खान के बगल में बैठने की तस्वीर ट्वीट कर सिद्धू पर निशाना साधा है।

लेकिन सुधीर चौधरी का यह दाव उल्टा पड़ गया। सुधीर के ट्वीट के जवाब में सोशल मीडिया यूजर्स उनकी कुछ ऐसी पुरानी तस्वीरें निकालकर शेयर किए हैं, जिसमें वह पूर्व पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और पूर्व पाकिस्तानी राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ के साथ दिखाई दे रहे हैं। हालांकि यह दोनों तस्वीर कब और कहां की है इस बात की जानकारी नहीं हो पाई है।

पाक सेना प्रमुख से गले मिलने पर विवाद

बता दें कि पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ प्रमुख इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह के दौरान पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने कांग्रेस नेता और पूर्व भारतीय क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू को दो बार सिद्धू को गले लगाया। इस दौरान दोनों के बीच संक्षिप्त बातचीत भी हुई। इससे देश में नया विवाद खड़ा हो गया है। सिद्धू के पाक अधिकृत कश्मीर के राष्ट्रपति मसूद खान की बगल में बैठने को लेकर भी विवाद पैदा हो गया है।

शनिवार (18 अगस्त) को इमरान के शपथ ग्रहण के दौरान सिद्धू मेहमानों की पहली पंक्ति में पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) के राष्ट्रपति मसूद खान की बगल में न सिर्फ बैठे नजर आए बल्कि उनसे बातचीत भी की। वह संभवत: पहले भारतीय नेता हैं, जिनको किसी समारोह में पीओके के राष्ट्रपति के साथ बैठे देखा गया। सिद्धू के पाकिस्तान के सेना प्रमुख कमर जावेद बाजवा से गले मिलने पर पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने नाराजगी व्यक्त की है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here