पंजाब: सुच्चा सिंह ने आम आदमी पार्टी के खिलाफ षडयंत्र रचने का लगाया आरोप

1

पंजाब आम पार्टी के संयोजक सुच्चा सिंह छोटेपुर ने ये स्पष्ट किया है कि पार्टी छोड़ने का उनका कोई इरादा नहीं है। सुच्चा सिंह का ये बयान तब आया है जब मीडिया में ये क़यास लगाए जा रहे थे कि सुच्चा सिंह का पार्टी से जाना तय है।

संवाददाताओं से बातचीत में उन्होने कहा, “मैंने आम आदमी पार्टी के लिए बहुत मेहनत से काम किया है, इसे आगे तक ले जाने के लिए मैंने खून पसीना एक कर दिया। तो मैं पार्टी क्यू छोड़ूंगा मैंने कुछ गलत किया है तो मेरे खिलाफ सीबीआई जांच का आदेश देना चाहिए। मैं एक ईमानदार आदमी हूँ । आम आदमी पार्टी  मुझे फंसा रही है। और मैरे विरोधी मेरी रक्षा कर रहे हैं।”

Also Read:  Sidhu is in the US, no decision yet to join AAP: Navjot Kaur

सुच्चा सिंह ने आगे कहा कि, “ये बहुत दुर्भाग्यपूर्ण कि एक उप मुख्यमंत्री के औहदे वाला आदमी मेरे खिलाफ स्टिंग करे, उप मुख्यमंत्री का ये लेवल नहीं होना चाहिए ये एक जासूसी का लेवल है।”

Also Read:  महिला दिवस पर PM मोदी के कार्यक्रम में मुस्लिम महिला सरपंच को हिजाब उतरवाने के लिए किया गया मजबूर

पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष कैप्टन अमरिंदर सिंह छोटेपुर की वीडियो के बचाव में आए जिसमें आम आदमी के पंजाब संयोजक छोटेपुर पैसे लेते नज़र आ रहे हैं।

सुच्चासिंह ने इस तथाकथित स्टिंग को आम आदमी पार्टी की गंदी चाल बताई हैं। केजरीवाल ने आम आदमी पार्टी के 21 नेताओं से तुरंत पत्र लिखकर सुच्चासिंह को पार्टी से निकालने की बात पूछी थी।

Also Read:  Supreme Court judges irked after Delhi government seeks adjournment

1 COMMENT

  1. सुच्चा सिहं यह”आप”पार्टी है, जिस में भरष्टाचार करने बारे सोचना भी गुनाह है, स्टिंग कोई भी करें, भरष्टाचार के बारे गलत सोच व स्वीकृति स्वीकार नही की जाती, आप पार्टी अपने आदमियों पर पूरी निगरानी रखती है, यही कारण है, भरष्टाचार मिटाने के लिये लोग आप पार्टी पर विश्वास करने लग गये है, कांगरेस व भाजपा भरष्टाचार मिटाने काम नही कर सकते क्योकि इन का केडर कारपोरेट समर्थित व खुद बहुत अमीर है, केडर को इमानदार करना बडा मुश्कल है, केडर ही इन लेंगों के चुनाव जितवाया है। आप पार्टी सब एक सूझ और चेतना व जोश के आदमी है, जिन्ह के लिये सिद्धान्त सब से बडा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here