दिल्ली: पुलिस बर्बरता के बाद खौफ में जामिया के छात्र-छात्राएं, यूनिवर्सिटी 5 जनवरी तक बंद, छात्र घर के लिए हो रहे हैं रवाना

0

जामिया मिलिया इस्लामिया में रविवार को हुई हिंसा के बाद स्थिति सोमवार सुबह भी तनावपूर्ण बनी हुई है और कई छात्र-छात्राएं अपने घरों के लिए निकल रहे हैं। वहीं, जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी के बाहर एक बार फिर विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया है।

जामिया
फोटो: ANI

बता दें कि, नागरिकता संशोधन बिल का विरोध कर रहे छात्रों को रविवार को पुलिस की बर्बरता के बाद जामिया मिल्लिया इस्लामिया को 5 जनवरी तक बंद कर दिया गया है। नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ यहां चल रहे विरोध प्रदर्शन के बाद विश्वविद्यालय युद्ध के मैदान में तब्दील हो गया। विश्वविद्यालय ने पांच जनवरी तक शीतकालीन अवकाश की घोषणा शनिवार को कर दी थी। परीक्षाएं भी स्थगित कर दी गई हैं।

रविवार को आगजनी और हिंसा की घटनाओं के बाद पुलिसकर्मी विश्वविद्यालय परिसर में घुस आए थे और लाठी चार्ज किया था। आरोप है कि, पुलिस ने छात्र और छात्राओं को पुलिस ने दौड़ा-दौड़ाकर पीटा था। स्थिति अब भी तनावपूर्ण बनी हुई है और पुलिस की बर्बरता के बाद छात्राएं विश्वविद्यालय परिसर छोड़ अब घर का रुख कर रही हैं। छात्र-छात्राएं अब विश्वविद्यालय परिसर में भी खुद को सुरक्षित महसूस नहीं कर रहे हैं।

जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी के बाहर एक बार फिर विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया है। रविवार को दिल्ली पुलिस की बर्बरता के खिलाफ छात्र शर्ट निकालकर विश्विद्यालय के गेट पर धरने पर बैठ गए हैं। छात्रों की मांग है कि पुलिस के खिलाफ कार्रवाई की जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here