नोटबंदी: घर में खाने के लिए पैसे नही थे, 2 हज़ार रुपए के लिए नसंबदी कराने को मजबूर हुआ ये शख्स

0

नोटबंदी से देश में पैसों की परेशानी से तमाम लोग प्रभावित हो रहे हैं इसका एक ताज़ा मामला देखने को मिला है अलीगढ़ के नहरौला गांव में नोटबंदी के बाद से काम नहीं मिलने पर एक मज़दूर शख्स इतना परेशान हो गया की । वो नसबंदी कराने को मजबूर हो गया।

Also Read:  विधानसभा चुनाव में नोटबंदी का प्रभाव पड़ने से भाजपा नेताओं के बीच उभरा गहरा असंतोष

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के अनुसार पूरन का कहना है कि पत्नी मूक बधिर है, तीन बच्चे हैं और घर में नकद पैसों की कमी थी, उनके पास खाने तक को पैसे नहीं थे। इस वजह से मैंने नसबंदी कराने का फैसला लिया था। मुझे लगा कि मुझे जो पैसा मिलेगा उसके कुछ दिनों तक घर का काम चल जाएगा।

Also Read:  दिल्ली में रिमझिम बारिश का दौर शुरू, आसपास के इलाकों में जोरदार ठंड का एहसास

नोटबंदी

बता दें कि सरकार परिवार नियोजन कार्यक्रम के तहत लोगों को प्रोत्साहित करने के लिए दो हजार रुपये की रकम देती है। पूरन शर्मा का कहना है कि यही रकम हासिल करने के लिए उसने नसबंदी करवाई है। उसने सुना था कि पास ही एक कैंप में नसबंदी के बदले 2 हजार रूपये मिल रहे हैं। इस वजह से वो वहां गया।

Also Read:  नोटबंदी मुद्दे पर राज्यसभा में गतिरोध कायम, पूरे दिन चढ़ा हंगामे की भेंट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here