GST से पहले ‘लाल’ हुआ टमाटर, दिल्ली में 70 रुपये प्रति किलो तक पहुंचे दाम

0

दिल्ली में टमाटर के भाव जोरदार तेजी के साथ 60 से 70 रुपये प्रति किलो तक पहुंच गए हैं। इसमें एक हफ्ते के भीतर 70 फीसदी की वृद्धि हुई है। कुछ उत्पादक राज्यों में फसल नष्ट होने से टमाटर का बाजार प्रभावित हुआ है। जबकि सरकार का कहना है कि कीमतों में उतार-चढ़ाव मौसम की वजह है। टमाटर के दाम कोलकाता में 50 रुपये, चेन्नई में 40-45 और मुंबई में 35-40 रुपये प्रति किलोग्राम के दायरे में हैं।

आवश्यक वस्तुओं की कीमतें जारी करने वाली सरकारी एजेंसियों के अनुसार राजधानी दिल्ली में टमाटर का खुदरा मूल्य 58 से 60 रुपये प्रति किलो रहा। जबकि इसका थोक मूल्य 27 रुपये प्रति किलो था। राष्ट्रीय राजधानी में 21 जून को टमाटर का खुदरा मूल्य 37 रुपये प्रति किलो था और इस दिन इसका थोक मूल्य 15.25 रुपये प्रति किलो था।

इस प्रकार पिछले एक सप्ताह में टमाटर के खुदरा सरकारी मूल्य में 62 प्रतिशत से अधिक की वृद्धि हुई है। टमाटर के खुदरा दामों में अचानक आई तेजी से सरकार भी परेशान हो गई है। अलर्ट हो चुके खाद्य मंत्रालय ने टमाटर की सप्लाई के आंकड़े मंगाए हैं।

15 से 20 रुपये प्रति किलो बिकने वाला टमाटर 40 से 65 रुपये प्रति किलो तक पहुंच गया है। कई खुदरा बाजार में कीमतें 100 रुपये प्रति किलो तक पहुंच गई हैं। दिल्ली की आजादपुर मंडी में टमाटर के भाव दो दिन पहले 10 रुपये से 15 रुपये के बीच थे। लेकिन, बुधवार को ये भाव क्वॉलिटी के हिसाब से 60 रुपये से 70 रुपये पर जा पहुंचे।

दिल्ली के अलावा उत्तर भारत के कई शहरों में टमाटर के दामों में दो-तीन दिन में ही 70 फीसदी तक दाम बढ़े हैं। बढ़ते दामों को लेकर सरकार अलर्ट हो गई है। खाद्य आपूर्ति मंत्री राम विलास पासवान ने कहा कि कईं जगहों पर फसल बर्बाद होने के कारण दाम बढ़े हैं। सरकार कीमतों पर लगातार नजर रखे हुए है।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here