लोकसभा चुनाव: फेसबुक पर राजनीतिक पार्टियों ने विज्ञापनों पर खर्च किए 27.7 करोड़ रुपये, BJP सबसे आगे

0

2019 का आम चुनाव समाप्त हो गया है। इसी के साथ लगभग सभी चैनलों के एग्जिट पोल भी आ गए हैं। चैनलों के एग्जिट पोल के मुताबिक नरेंद्र मोदी सरकार वापसी कर रही है। बीजेपी गठबंधन को 300 से भी ज्यादा सीटों के मिलने का दावा किया जा रहा है, अब ऐसा होगा या नहीं यह तो 23 मई को होने वाले नतीजों से पता चलेगा। इसी बीच एक हैरान करने वाला आंकड़ा सामने आया है।

फेसबुक
REUTERS/Dado Ruvic /Files

एक रिपोर्ट के मुताबिक, राजनीतिक पार्टियों ने 19 मई को हुए आम चुनाव के सातवें चरण तक में फेसबुक पर विज्ञापनों पर 27.23 करोड़ रुपये खर्च किए। इसमें सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सबसे आगे रही। भारत के लिए फेसबुक विज्ञापन लाइब्रेरी के नवीनतम डेटा के अनुसार अपना प्रचार करने के लिए 19 फरवरी से 19 मई तक राजनीतिक पार्टियों ने फेसबुक पर 1,24,094 विज्ञापन डाले।

समाचार एजेंसी आईएएनएस की एक रिपोर्ट के मुताबिक, फेसबुक पर जहां कांग्रेस ने 1.8 करोड़ रुपये के विज्ञापन दिखाए, वहीं भाजपा ने इससे 200 प्रतिशत अधिक चार करोड़ रुपये से ज्यादा विज्ञापन में खर्च किए। तेलुगू देशम पार्टी (तेदेपा), वाईएसआर कांग्रेस और बीजू जनता दल (बीजद) जैसी क्षेत्रीय पार्टियां भी सूची में शामिल हैं।

फेसबुक एड लाइब्रेरी एक डेटाबेस है जिसमें राजनीति से संबंधित विज्ञापन और फेसबुक या इंस्टाग्राम पर चलने वाले राष्ट्रीय महत्व के मुद्दे शामिल रहते हैं। राजनीतिक दलों के समर्थक और सहयोगी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर सबसे अधिक खर्च करते हैं।

भारत के चुनाव आयोग ने घोषणा की है कि विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफार्मों से हटाए गए पोस्ट में सबसे अधिक फेसबुक ने 650 पोस्टों को हटाया। फेसबुक द्वारा हटाई गई पोस्ट में से 482 राजनीतिक पोस्ट थीं जो चुनाव से 48 घंटे पहले के ‘मौन काल’ के समय की थीं। फेसबुक ने कहा है कि वह भारत में हर रोज 10 लाख फर्जी अकाउंट हटा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here