VIDEO: सोनू सूद ने कंगना रनौत पर साधा निशाना? कहा- देखकर दुख होता है कि कुछ अपने लोग ही फिल्म इंडस्ट्री पर सवाल उठा रहे हैं

0

कोरोना वायरस (कोविड-19) महामारी के दौरान असहाय लोगों की मदद के चलते मीडिया की सुर्खियों मे बने बॉलीवुड के मशहूर अभिनेता सोनू सूद ने फिल्म इंडस्ट्री की एकता को लेकर खुलकर बात की है। एक साक्षात्कार के दौरान उन्होंने कहा कि फिल्म इंडस्ट्री में यूनिटी की बात की जाती है, लेकिन वास्तव में ऐसा नहीं है। उन्होंने कहा कि यह निराशाजनक है कि कुछ ऐसे लोग ही इंडस्ट्री पर सवाल उठा रहे हैं, जो इसका हिस्सा हैं। इस दौरान सोनू सूद ने किसी का नाम तो नहीं लिया है, लेकिन उनके इस बयान को अभिनेत्री कंगना रनौत से जोड़कर देखा जा रहा है।

सोनू सूद

फिल्म इंडस्ट्री के लगातार मीडिया ट्रायल में रहने के सवाल पर सोनू सूद ने ‘बॉलीवुड हंगामा’ से बातचीत में कहा, ‘निश्चित तौर पर इससे मैं परेशान हुआ, लेकिन वास्तव में मैं जिससे निराश हुआ, वह यह है कि हमारे ही कुछ लोगों ने इंडस्ट्री के खिलाफ बोलने का काम किया है। यही वह इंडस्ट्री है, जिसके लिए हम अपने घरों और परिवारों को छोड़कर आए हैं। इस इंडस्ट्री ने ही हमारे सपनों को पूरा करने का काम किया है। अब लोग इस पर सवाल उठा रहे हैं। आप अंदाजा लगा सकते हैं कि इससे इंडस्ट्री को कितना नुकसान होगा।’

सोनू सूद ने कहा कि इंडस्ट्री को इन अनुभवों से सीखना चाहिए। सोनू सूद ने बॉलीवुड में एकता की जरूरत बताते हुए कहा, ‘हम सभी को एक बड़े परिवार के तौर पर सोचना होगा, लेकिन हम सभी को जोड़कर रखने वाली चेन गायब नजर आती हैं। लोग दूसरों से खुद को जोड़कर देख रहे हैं। कोई भी आपको सलाह देने या फिर सराहना करने नहीं आ रहा है। हर कोई परेशान लग रहा है। उनका कहना है कि वे बॉलीवुड का ही हिस्सा हैं, लेकिन उन्होंने अपने आसपास बैरियर बना लिए हैं।’

सोनू सूद ने कहा कि हम सभी लोगों को इससे सीखना चाहिए। उन्होने कहा कि इस इंडस्ट्री में लोग सफलता महत्व देते हैं, लेकिन जब आप असफल हो जाते हैं तो कोई आपको मदद की पेशकश नहीं करता।

बता दें कि, इस साल की शुरुआत में अभिनेत्री कंगना रनौत ने फिल्म इंडस्ट्री पर सवाल उठाते हुए कहा था कि यह बुराईयों का गढ़ है और 99 प्रतिशत इंडस्ट्री के लोग ड्रग्स का इस्तेमाल करते हैं। कंगना रनौत के इस बयान की जया बच्चन, रवीना टंडन, हंसल मेहता समेत तमाम सितारों ने निंदा की थी। अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत से लेकर किसान आंदोलन तक के मुद्दे पर इंडस्ट्री दोफाड़ नजर आई है।

बता दें कि, सोनू सूद को प्रवासी मजदूरों और कामगारों की मदद करने के लिए पंजाब सरकार और आंध्रप्रदेश सरकार ने भी सम्मानित किया है। इसके अलावा, अंतरराष्ट्रीय स्तर पर संयुक्त राष्ट्र ने सोनू सूद को ‘एडीजी स्पेशल ह्यूमैनिटेरियन एक्शन अवार्ड’ से सम्मानित किया जा चुका है। उनके प्रशंसक उनके के लिए भारत सरकार से देश का सर्वोच्च सम्मान देने की मांग कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here