दिल्ली: मानव तस्करी और देह व्यापार के मामले में जेल की सजा काट रही सोनू पंजाबन ने की खुदकुशी की कोशिश, अस्पताल में भर्ती

0

सोनू पंजाबन के रूप में जानी जाने वाली गीता अरोड़ा को दवाओं का ओवरडोज लेने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जेल अधिकारियों ने इस बारे में जानकारी दी है। सोनू पंजाबन अपहरण, मानव तस्करी और देह व्यापार के मामले को लेकर जेल की सजा काट रही है। वह तिहाड़ की जेल नंबर 6 में बंद है।

सोनू पंजाबन

समाचार एजेंसी आईएएनएस की रिपोर्ट के मुताबिक, गुरुवार को उसने सिरदर्द की अधिक मात्रा में गोलियां खाकर जान देने की कोशिश की। ऐसा लगता है कि वह कुछ समय से इन दवाओं को इकट्ठा कर रही थी। दवा का सेवन करने के बाद उसने बेचैनी की शिकायत की, जिसके बाद उसे जेल परिसर के भीतर स्थित दवाखाने में भर्ती कराया गया था।

तिहाड़ जेल के जनसंपर्क अधिकारी राजकुमार ने कहा, “बाद में हमने उसे दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल में स्थानांतरित कर दिया है, जहां उसकी हालत स्थिर बताई जाती है। उसे जल्दी छुट्टी मिल सकती है।” सोनू पंजाबन और उसके सहयोगी संदीप बेदवाल को अदालत ने अपहरण, मानव तस्करी और वेश्यावृत्ति के एक मामले में दोषी ठहराया था।

यह मामला 12 वर्षीय एक लड़की से जुड़ा है, जिसका 11 सितंबर 2009 को बेदवाल ने अपहरण किया था। बाद में इस लड़की को वेश्यावृत्ति के उद्देश्य से सोनू पंजाबन सहित विभिन्न लोगों को कई बार बेचा गया था। अभियोजन पक्ष के अनुसार, सोनू पंजाबन ने पीड़ित लड़की के शरीर में ऐसी दवाइयां इंजेक्ट कराईं जो उसे ‘वेश्यावृत्ति के लिए अधिक उपयुक्त’ बनाए। इस लड़की से वेश्यावृत्ति कराकर वह हर ग्राहक से 1,500 रुपये वसूलती थी।

सोनू पंजाबन पर दिल्ली के कई थानों के अलावा देश के कई राज्यों में बड़ा ऑर्गनाइज सेक्स रैकेट चलाने का मामला दर्ज है। सोनू पर मकोका के तहत भी केस दर्ज किया गया था। सोनू पंजाबन इतना बड़ा नाम हो गई थी कि उसके किरदार और बॉलीवुड में फिल्में भी बनने लगी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here