‘नाचने-गाने वालों को ऐसी जगह नहीं रहना चाहिए जहां भजन और अज़ान की आवाजे़ं आती हो’

1

गायक सोनू निगम ने सोमवार को कई ट्वीट कर लाउडस्पीकर से दी जाने वाली अज़ान पर मुस्मिम वर्ग के प्रति अपनी घृणा को जाहिर करते हुए इसे गुडागर्दी के साथ जोड़ा जिसके बाद उनके इस बयान पर कड़ी आलोचना का दौर शुरू हो गया।

सोनू निगम

मुस्लिम समाज के कई दिग्गजों ने सोनू की इस टिप्पणी को अमर्यादित बताया, वहीं दूसरी और समाजवादी पार्टी के आजम खान ने मीडिया से बात करते हुए सोनू निगम के बारें में कहा कि नाचने-गाने वालों को ऐसी जगह नहीं रहना चाहिए जहां भजन और अज़ान की आवाजे़ं आती हो

Also Read:  यूपी में अब सभी धर्मो के लिए शादी का रजिस्ट्रेशन अनिवार्य, योगी कैबिनेट ने प्रस्ताव को दी मंजूरी

उन्होंने कहा कि ये अमीर लोग होते है इनको किसी अच्छी जगह पर रहना चाहिए। मंदिर या मस्जिद इनके घरों के पास हो ऐसी जगह पर इन्हें नहीं रहना चाहिए।

Also Read:  देश में रामभक्त ही नहीं होंगे तो राम मंदिर कैसे बनेगा, हिंदुओं को अपनी जनसंख्या बढ़ाने की जरूरत- गिरिराज सिंह

सोनू निगम ने एक साथ कई ट्वीट किए जिनमें उन्होंने कहा कि ”ऊपरवाला सभी को सलामत रखे। मैं मुसलमान नहीं हूं और सवेरे अज़ान की वजह से जागना पड़ता है। भारत में ये जबरन धार्मिकता कब थमेगी।”

उन्होंने अपने अन्य ट्वीट में मंदिर और गुरुद्वारे का जिक्र करते हुए कहा, ‘मुझे नहीं लगताकी कोई मंदिर या गुरुद्वारा बिजली का इस्तेमाल कर उन लोगों को जगाने का काम करते हैं जो उनके धर्म के नहीं हैं। ऐसा क्यों?’

इसके अलावा उन्होंने अपने दूसरे ट्वीट में कहा, ‘और जिस समय मोहम्मद ने इस्लाम बनाया तब बिजली नहीं थी। क्या कारण है कि एडिशन के बाद शोर को सुन रहे हैं?’

Also Read:  जेएनयू का बंधक संकट खत्म, 24 घंटे बाद बाहर निकले वीसी

1 COMMENT

  1. प्रियंका चोपड़ा जिसे भोपाल में छ: जगह से आजान की आवाज सुनने पर शान्ति मिली थी, क्या जन्नत में जाकर हूर बनेगी? अगर ऐसा हुआ तो आतंकवादी बनकर शहीद होने वालों की तो लम्बी कतारें लग जाएँगी और उन्हें सभी 72 हूरें पाने का भी लालच नहीं रहेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here