700 बॉलीवुड सितारों द्वारा बीजेपी के खिलाफ वोट करने की अपील को लेकर अनुपम खेर के ट्वीट पर आलिया भट्ट की मां सोनी राजदान ने दिया जवाब

0

हाल ही में 700 से ज्यादा बॉलीवुड कलाकारों ने इस साल के लोकसभा चुनावों में केंद्र में सत्तारूढ़ बीजेपी को वोट ना देने की अपील की है। इस अपील के बाद अभिनेता अनुपम खेर ने सोशल मीडिया के जरिए उन सभी लोगों पर निशाना साधा, जो मोदी सरकार को वोट ना डालने की अपील कर रहे हैं। उनकी पोस्ट पर बॉलीवुड की मशहूर अभिनेत्री आलिया भट्ट की मां सोनी राजदान और स्वरा भास्कर ने अपनी प्रतिक्रिया दी। वहीं, इस मामले पर अभिनेता सुशांत सिंह ने भी अनुपम खेर को घेरा।

सोनी राजदान

बता दें कि, अभी हाल ही में अभिनेता नसीरुद्दीन शाह, अमोल पालेकर, अनुराग कश्यप, कोंकणा सेन शर्मा, रत्ना पाठक शाह, गिरीश कर्नाड, एमके रैना, उषा गांगुली, अभिषेक मजूमदार, महेश दत्तानी, संजना कपूर, डॉली ठाकोर, अनामिका हासकर और लिलेट दुबे सहित 700 से ज्यादा बॉलीवुड सितारों ने इस साल के लोकसभा चुनावों में बीजेपी को वोट ना देने की अपील की है। सभी हस्तियों ने एक पत्र लिखकर लोगों से आग्रह किया है कि वोट डालकर केंद्र में सत्तारूढ़ बीजेपी सरकार और उसके सहयोगियों को सत्ता से बाहर करें।

उनकी अपील पर प्रतिक्रिया देते हुए अनुपम खेर ने शनिवार को ट्वीट कर लिखा, मेरे समुदाय के कई लोगों ने एक पत्र के जरिए मतदाताओं से संवैधानिक रूप से चुनी गई सरकार को आने वाले चुनाव में वोट न देने की अपील की है। दूसरे शब्दों में कहें तो ये लोग विपक्ष के समर्थन में प्रचार कर रहे हैं। अनुपम खेर ने आगे लिखा, अच्छा है, कम से कम यहां तो कोई लागलपेट नजर नहीं आ रहा।

बता दें कि अपने इस ट्वीट के साथ अनुपम खेर ने ‘भारत माता की जय’ कहते हुए अपना एक वीडियो भी पोस्ट किया है। अनुपम खेर अपने इस ट्वीट को लेकर सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गए और लोगों ने उन्हें ट्रोल करना शुरु कर दिया।

अनुपम खेर की पोस्ट पर सोनी राजदान ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए लिखा, ‘अनुपम, आप मौजूदा सरकार से सहमत हो सकते हैं तो आपको क्यों लगता है कि दूसरे कुछ अलग कर रहे हैं। सोनी की बात का जवाब देते हुए अनुपम खेर ने लिखा, ‘डियर सोनी, यह मेरा केवल ऑब्जर्वेशन था, किसी तरह की कोई शिकायत नहीं।’

इन दोनों के सवाल-जवाब के बीच एक्ट्रेस स्वरा भास्कर ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने अनुपम खेर की बात के जवाब में लिखा- ‘जी हां, इसे लोकतंत्र कहा जाता है सर।’ इस पर स्वरा भास्कर को जवाब देते हुए अनुपम खेर ने लिखा, ‘मैं सहमत हूं अगर दूसरों के ऐसा करने पर इसे असहिष्णुता न कहा जाए।’

वहीं अनुपम खेर के इस ट्वीट पर CINTAA के जनरल सेक्रेटरी सुशांत सिंह ने लिखा, तो अगर एक बार संवैधानिक तरीके से सरकार को चुन लिया जाए तो फिर विपक्ष या चुनाव की जरूरत ही नहीं रह जाती है? किसी लोकतंत्र में शासन कर रही सरकार को वोट ना करने की अपील करना क्या एंटी नेशनल काम हो जाता है ? क्या ये हिटलर की विचारधारा है? आपसे ऐसी उम्मीद नहीं थी। सुशांत के इस जवाब पर अभी तक अनुपम खेर की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है।

बता दें कि अभी हाल ही में अभिनेता नसीरुद्दीन शाह, अमोल पालेकर, अनुराग कश्यप, कोंकणा सेन शर्मा, रत्ना पाठक शाह, गिरीश कर्नाड, एमके रैना, उषा गांगुली, अभिषेक मजूमदार, महेश दत्तानी, संजना कपूर, डॉली ठाकोर, अनामिका हासकर और लिलेट दुबे सहित 600 से ज्यादा बॉलीवुड सितारों ने इस साल के लोकसभा चुनावों में बीजेपी को वोट ना देने की अपील की है। सभी हस्तियों ने एक पत्र लिखकर लोगों से आग्रह किया है कि वोट डालकर केंद्र में सत्तारूढ़ बीजेपी सरकार और उसके सहयोगियों को सत्ता से बाहर करें।

बता दें कि इससे पहले देश के 100 से भी ज्यादा फिल्मकारों और 200 से ज्यादा प्रतिष्ठित लेखकों ने भी अलग-अलग बयान जारी कर देशवासियों से घृणा की राजनीति के खिलाफ वोट देने की अपील की है। पिछले दिनों देश भर के 100 से अधिक फिल्मकारों ने लोगों से इस लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को वोट न करने की अपील की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here