मां के शव को कंधों पर उठाकर ले जाने को मजबूर हुआ जवान, नहीं मिली सेना और प्रशासन से मदद

0

भारतीय सेना का एक जवान मोहम्मद अब्बास अपनी मां का शव 10 फुट गहरी बर्फ में घंटों तक ऊंची चढ़ाई चढ़कर अपने घर ले जा पाया। वह चाहता था कि उसकी मां का शव उसके गांव के ही कब्रस्तान में दफनाया जाए।

Photo: NDTV

इसलिए इतनी लम्बी चढ़ाई उसने शव को उठाकर की। जबकि इसके लिए उसने स्थानीय प्रशासन और सेना से हेलीकाॅप्टर की मांग की थी जिसे माना नहीं गया था।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अब्‍बास पंजाब के पठानकोट में तैनात थे, और उनकी मां सकीना बेगम उनके साथ ही रहती थी। 28 जनवरी को उनकी मां का निधन हो गया।  वे मां का अंतिम संस्‍कार पैत्रक गांव करनाह में करना चाहते थे। अब तक चित्राकोट से अब्बास के कुछ रिश्तेदार कुछ मजदूरों के साथ कुपवाड़ा पहुंच चुके थे. यहां गांववालों ने छत और खाना देकर उनकी मदद की।

जबकि कुपवाड़ा जिले के अधिकारियों का कहना है कि अब्‍बास को हेलीकॉप्‍टर की पेशकश की गई थी, लेकिन उसके परिवार ने लेने से इंकार कर दिया. सेना के अधिकारियों के दावे पर अब्‍बास ने सवाल उठाए हैं. अब्‍बास का आरोप है कि कुपवाड़ा कैंप में तो उसका फोन भी नहीं उठाया जा रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here