पुलवामा आतंकी हमला: जवानों की शहादत के दिन शूटिंग पर AAP ने भी पीएम मोदी को घेरा, सोशल मीडिया यूजर्स ने भी साधा निशाना

0

बीते 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आतंकी हमले को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राजनीतिक पार्टियों के साथ-साथ अब सोशल मीडिया यूजर्स के भी निशाने पर आ गए हैं। जवानों की शहादत के दिन शूटिंग को लेकर यूजर्स पीएम मोदी को जमकर खरी-खोटी सुना रहें है।

पुलवामा

कांग्रेस ने आरोप लगाया कि जब देश इस जघन्य हमले के कारण सदमे में था तो उस वक्त मोदी जिम कार्बेट पार्क में एक चैनल के लिए फिल्म की शूटिंग में मशगूल थे। पार्टी ने यह भी दावा किया कि प्रधानमंत्री अपनी सत्ता बचाने के लिए जवानों की शहादत और ‘राजधर्म’ भूल गए। आम आदमी पार्टी (आप) ने भी इस शूटिंग को लेकर पीएम मोदी पर निशाना साधा है। वहीं, सोशल मीडिया यूजर्स भी अब बीजेपी और प्रधानमंत्री को जमकर खरी-खोटी सुना रहें है।

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने गुरुवार तो कहा कि, पुलवामा आतंकी हमले के प्रति मोदी सरकार न तो कोई राजनीतिक जवाब दे रही है और न ही अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन कर रही है। उन्होंने कहा कि जब पूरा देश गत 14 फरवरी को पुलवामा में 3:10 बजे शाम को हुए आतंकी हमले से सदमे में था, तो उस समय नरेंद्र मोदी रामनगर, नैनीताल के कॉर्बेट नेशनल पार्क में फिल्म की शूटिंग कर रहे थे।’’

सुरजेवाला ने कहा, ‘‘मोदी जी की यह फिल्म शूटिंग 6:30 बजे शाम तक चली। शाम को 6:45 पर मोदी जी ने सर्किट हाउस में चाय नाश्ता किया और दूसरी तरफ सैनिकों की शहादत पर देश के चूल्हे नहीं जले। यह भयावह है कि एक तरफ हमारे जवान पुलवामा में शहीद हुए, तो उसके चार घंटे बाद तक मोदी जी स्वयं के प्रचार, फोटोशूट व चाय-नाश्ते में व्यस्त थे।’’

आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय प्रवक्ता और राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने ट्वीट कर लिखा, “तो क्या 40 जवानो की शहादत की ख़बर मिलने के बावजूद मोदी जी जिम कार्बेट पार्क में TV चैनल की शूटिंग कर रहे थे? क्या कोई प्रधानमंत्री संवेदनहीन हो सकता है?”

संजय सिंह के इस ट्वीट पर सोशल मीडिया यूजर्स ने भी पीएम मोदी और बीजेपी पर निशाना साधना शुरु कर दिया। एक यूजर ने लिखा, “इससे बड़ा देश का दुर्भाग्य क्या होगा? क्या इस तरह का नाकारा/निकम्मा और संवेदनहीन प्रधानमंत्री भी कोई हो सकता है?।”

एक अन्य यूजर ने पीएम मोदी पर तंज कसते हुए लिखा, “हमारा क्या, जब चाहेगा झोला उठाकर चला जाऊगा। सैनिक तो मरने के लिए ही होते हैं इनके लिए क्या मैं अपनी शूटिंग खत्म थोड़ी ही कर दूंगा।” एक अन्य यूजर ने लिखा, “मोदी जी PM कम पुराने समय के राजा ज्यादा हैं इसलिए वे पुलवामा जैसी अति छोटी घटना के लिए अपना मूड खराब नही करते बस इसीलिए अपनी शूटिंग का मजा लेते रहे।”

एक अन्य यूजर ने लिखा, “जब पूरा देश पुलवामा में हमारे शहीदों की शहादत के सदमे से जूझ रहा था तब पीएम मोदी जी रामनगर नैनीताल में कार्बेट नेशनल पार्क में अपने प्रचार वाली फिल्म की शूटिंग कर रहे थे।” एक अन्य यूजर ने लिखा, “इसे ऑस्कर एवं नोबल पुरस्कार एक साथ मिलना चाहिए।” बता दें कि इसी तरह तमाम यूजर्स इस पर अपनी प्रतिक्रिया दे रहें है।

देखिए कुछ ऐसे ही ट्वीट

गौरतलब है कि गुरुवार (14 फरवरी) की शाम जम्‍मू कश्‍मीर के पुलवामा जिले में जैश-ए-मोहम्मद के एक आतंकवादी ने विस्फोटकों से लदे वाहन से सीआरपीएफ जवानों की बस को टक्कर मार दी, जिसमें 42 जवान शहीद हो गए। इस घटना ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया है, हर कोई शहादत को नमन कर रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here