“देश कोरोना, बेरोजगारी, भूखमरी, गरीबी, लाचारी से मर रहा है और खुद को ‘झूठा प्रधान सेवक’ कहने वाले फोटोशूट में व्यक्त है, नहीं चाहिए ऐसा प्रधानमंत्री जो खुद के मौज मस्ती में रहें”: पीएम मोदी के फोटो पर बोले सोशल मीडिया यूजर्स

0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार (30 अक्टूबर) को गुजरात के दो दिवसीय दौरे पर केवडिया में ‘जंगल सफारी’ का उद्घाटन किया। यह ‘जंगल सफारी’ भारत के ‘लौह पुरुष’ की 182 मीटर लंबी प्रतिमा ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ के पास स्थित है। इस दौरान पीएम मोदी ने अलग-अलग किस्म के तोतों को अपने हाथ पर बिठाया, फिर उन्हें खाने के लिए दाना दिया। इस मामले से जुड़ी कुछ तस्वीरें पीएम के ट्विटर हैंडल से पोस्ट की गईं। लेकिन, तस्वीरें शेयर करते हुए पीएम सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गए, लोगों ने उन्हें ट्रोल करना शुरु कर दिया। वहीं, कई लोगों ने उनके ‘प्रकृति प्रेम’ को सराहा।

पीएम मोदी

पीएम मोदी की तस्वीर पर कमेंट करते हुए एक यूजर ने लिखा, “देश कोरोना, बेरोजगारी, भूखमरी, गरीबी, लाचारी से मर रहा खुद को झूठा प्रधान सेवक कहने वाले फोटोशूट और मजे लेने में व्यक्त है। क्या 18 घण्टे काम है?। नहीं चाहिए ऐसा प्रधानमंत्री जो खुद के मौज मस्ती में व्यक्त रहें। कभी बेरोजगारी, गरीबी पर बात नहीं होती अब।”

वहीं, एक अन्य यूजर ने लिखा, “मोर के बाद अब पेश है तोता… देखो देशवासियों ये नया फोटोशूट आपको कैसा लगा… देश का प्रधानमंत्री फोटोशूट में व्यस्त है। GDP -23 है इससे उनका कोई वास्ता नहीं, उन्होंने पहले ही कह दिया था कि आप आत्मनिर्भर बनिए। प्रधानमंत्री के इस फोटोशूट से प्रतीत होता है कि उनका उद्देश्य है !!”

एक अन्य यूजर ने लिखा, “मनुष्य ही नहीं बल्कि पशु पक्क्षी भी आपसे प्रेम करते हैं। आप जैसा प्रधानमंत्री पाकर गौरवान्वित महसूस करता है भारत देश। जय हिंद जय भारत नमो नमो।” बता दें कि, इसी तरह तमाम यूजर्स पीएम मोदी के ट्वीट पर जमकर अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं।

देखें कुछ ऐसे ही ट्वीट:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here